loading...

थायरॉइड की समस्या थायरॉक्सिन हार्मोन के असंतुलन के कारण होती है। इस हार्मोन की वजह से पूरे शरीर की कार्यप्रणाली प्रभावित होती है, जिसमें ऊर्जा में कमी, चिड़चिड़ापन, वजन असंतुलन शामिल है। लेकिन इस समस्या से निजात पाने का सबसे आसान तरीका है- योग। योग में कई आसन हैं जो थायरॉइड पर नियंत्रण पाने के लिए सहायक सिद्ध हो सकते हैं। hhhh

loading...
1. मत्स्यासन- थायरॉइड की समस्या को दूर करने के लिए मत्स्यासन बहुत लाभदायक है। इस आसान को करते वक्त आपके शरीर की मुद्रा मछली की तरह बनानी होती है। इस आसन को करने से आपके गले में खिंचाव पड़ता है और थायरॉइड ग्रन्थि पर दबाव बनता है। इसलिए इस आसान के नियमित अभ्यास से थायरॉइड की समस्या से छुटकारा मिलता है।

 2. सूर्य नमस्कार- थायरॉइड रोग में सूर्य नमस्कार का भी विशेष महत्व है। सूर्य नमस्कार करते समय आपको गर्दन को आगे और पीछे की ओर करना पड़ता है और गहरी सांस लेनी और छोड़नी होती है। इस क्रिया को करने से थायरॉइड ग्रंथि पर दबाव पड़ता है जिससे उसके आसपास के स्नायु क्रियाशील होते हैं और थायरॉइड की समस्या में लाभ मिलता है।
3. विपरीत करनी- आपने शायद इस आसान का नाम पहले ना सुना हो, लेकिन विपरीत करनी आसन, थायरॉइड की समस्या में रामबाण इलाज है। यदि आप योग की अन्य मुद्राओं को करने में असमर्थ हैं तो इस आसान का अभ्यास जरुर करें।
4. धनुरासन- इसमें धनुष बाण की तरह शरीर की मुद्रा होती है। इस आसान को करने से गले पर खिंचाव पड़ता है। इसके अतरिक्त इसे करने से हारमोन्स नियंत्रण में रहते हैं। साथ ही गले में तनाव के कारण ग्रन्थि पर भी दबाव पड़ता है। इसलिए जो लोग थायरॉइड की समस्या से निजात पाना चाहते हैं, उन्हें यह आसान अवश्य करना चाहिए।
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें