loading...

200% के आर्थिक दंड के साथ करना होगा भुगतान 

8 नवम्बर 2016 की मध्यरात्रि से सभी 500 एवं 1000 के नोटों पर रोक लगाने से पूरे देश में अफरा-तफरी का माहौल सा हो गया है| नरेन्द्र मोदी के इस फैसले से सभी को आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ रहा है| वहीँ दूसरी तरफ मोदी द्वारा शुरू की गई भ्रष्टाचार एवं काले धन के खिलाफ इस जंग में अत्यधिक लाभांश का भुगतान देखने को मिल रहा है| enforcement-directorate_647_110816112321

loading...

ख़बरों की माने तो सूरत के एक बिल्डर तथा डायमंड मर्चेंट ने हाल ही में 6000 करोड़ की धनराशी का समर्पण किया है| यदि इस बात की पुष्टि हुई तो, इस बिल्डर को आगे भी 5400 करोड़ की राशि का बतौर कर भुगतान करना पड़ेगा| जिसमें से 30% कर एवं 200% दंड के रूप में देने होंगे|

आगे पढ़ें क्या है इस बिल्डर की शख्सियत…..

Click on Next Button For Next Slide

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें