loading...

क्या वैटिकन का हाथ सोनिया गांधी को गांधी परिवार मे भेजने के पीछे है?

loading...

ईश्वरी कार्य वैटिकन की रहस्य सेवा और कैथोलिक चर्चों में सबसे अधिक विवादित दबाव है। 

पिछले सप्ताह, मैं टीवी पर 2006 में आयी एक रहस्य रोमांच से भरी हॉलीवुड की एक अतिलोकप्रिय फिल्म, द विंसी कोड देख रहा था। यह फिल्म 2003 में डान ब्राउन के सबसे अधिक बिकने वाले उपन्यास पर आधारित और उसी नाम से बनायी गयी है। इस फिल्म में ईश्वर के कार्यों, वैटिकन की रहस्यमयी सेवाओं और कैथोलिक चर्चों में बहुत विवादित दबावों को कई बार संदर्भित किया गया है।

जब मैंने इन कैथोलिक दबावों के बारे में जानने के लिये गहन छानबीन किया, तो मैं कुछ चौकाने वाली सूचानाओं को जानकर चकरा गया जो भारत  की ओर इशारा कर रही थी। एक ब्लॉग लिखने वाले भूतपूर्व रॉ अधिकारी ने इंदिरा गांधी, भारत की सबसे अधिक शक्तिशाली प्रधानमंत्री, के परिवार में हुई मृत्युओं के बारे में बहुत सी “विशिष्ट सूचनाओं” का खुलासा किया है।

ब्लॉग लिखने वाला स्पष्ट रूप से भारतीय खुफिया का, इंदिरा गांधी और उनके पुत्र राजीव गांधी के समय, अंग था। उसने सत्याभास कराने वाले अनुमान को बताया कि किस प्रकार पाश्चात्य खुफिया संस्थाये एंटोनिया अल्बिना मायनो उर्फ सोनिया गांधी को लगाकर भारतीय राजनीति को आकार दे रहा है।

जब प्रथम विश्व युद्ध के बाद सम्पूर्ण यूरोप साम्यवाद के वशीभूत हो रहा था, तब एंटॉनियों के पिता स्टेफनो मायनो, जो रोमन कैथोलिक के प्रति निष्ठावान थे, मुसोलिनी द्वारा दिखाये गये फासिस्ट दबावों के प्रति अपनी निष्ठा प्रकट किया।

ये लेख आपके लिए जरूरी है अगले पृष्ठ पर पढ़े..

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें