loading...
लोग रास्ता न मिलने पर हो जाते हैं निराश 

कहा जाता है कि जब आपको कोई रास्ता न दे तो अपनी राह आपको खुद ही बना लेनी चाहिए, हो सकता है आपकी बनायी यही राह आने वाली और कई पीढियों को मंजिल तक पहुँचाने के काम आए… ये बात हम सब भली-भांति जानते हैं लेकिन फिर भी हममे से बहुत से लोग रास्ता न मिलने पर हार मान लेते हैं l

सोचने में थोड़ा मुश्किल जरुर है लेकिन असंभव नहीं है l आज हम आपको एक ऐसी कहानी सुनाने वाले हैं जो न जाने कितने लोगों के लिए प्रेरणास्त्रोत रही है l i1

loading...

खुद से जुड़ी हुई समस्याओं को लोगों तक पहुचने के लिया बच्चो ने लिया बड़ा फैसला

देश में लाखो समस्याएं देखने को मिलती हैं, उसी में से एक है बालमजदूरी और उससे जुड़ी हुई मजबूरियां l जहाँ मीडिया बड़े लोगों की खबर दिखाने में व्यस्त था, वहीँ जब फुटपाथ पर रह रहे कुछ बच्चो ने देखा कि किसी अखबार या मीडिया में उनकी समस्याओ के लिए कोई जगह नहीं है, तो उन्होंने अपनी बात लोगों तक पहुंचाने के लिए स्वयं ही कुछ ऐसा करने का फैसला किया जिसे सुनकर आप भी दंग रह जाएगे l

आगे पढ़े बच्चो के उस कारनामे के बारे में जिसकी चर्चा विश्व में भी हैं..!

Click on Next Button For Next Slide

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें