loading...

नई दिल्ली : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज दावा किया कि हाल की उनकी असम यात्रा के दौरान आरएसएस कार्यकर्ताओं ने उन्हें बारपेटा में एक मंदिर में प्रवेश करने से रोका। राहुल ने कहा कि यह भाजपा की राजनीति का तरीका है जो ‘अस्वीकार्य’ है।  2015_12$largeimg208_Dec_2015_084344360

loading...

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कोल्लम में एक कार्यक्रम में केरल के मुख्यमंत्री ओमन चांडी को नहीं बुलाये जाने को लेकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि यह राज्य के लोगों का आपमान है। इस कार्यक्रम में मोदी हिस्सा ले रहे हैं। संसद भवन परिसर में गांधी प्रतिमा के समक्ष कांग्रेस सांसदों के साथ विरोध प्रदर्शन करने के बाद राहुल ने संवाददाताओं से बातचीत में पंजाब में कानून एवं व्यवस्था की स्थिति का विषय भी उठाया।

उन्होंने कहा, ‘ जब मैं असम गया था तब मैं बारपेटा जिले में एक मंदिर में जाना चाहता था। मंदिर के पास आरएसएस के लोगों ने मुझे प्रवेश करने से रोका। इस तरह से भाजपा काम करती है।’ राहुल ने कहा कि उन्होंने महिला को मेरे सामने खड़ा कर दिया और कहा कि मैं मंदिर में प्रवेश नहीं कर सकता। ‘वो मुझे रोकने वाले कौन होते हैं। ’

शुक्रवार को बारपेटा की यात्रा करने वाले राहुल गांधी ने कहा कि वह बाद में शाम को फिर मंदिर गए तब तक आरएसएस कार्यकर्ता वहां से जा चुके थे। असम के मुख्यमंत्री तरूण गोगोई ने कल आरोप लगाया था कि भाजपा और आएसएस ने बारपेटा में राहुल को प्रवेश नहीं करने देने की साजिश रची है। चांडी के मुद्दे पर राहुल ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री ने केरल के लोगों का अपमान किया है। उन्होंने दावा किया कि उन्होंने (पीएम) हमारे मुख्यमंत्री को समारोह में जाने से रोका।

कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा, ‘ केरल के मुख्यमंत्री राज्य के लोगों का प्रतिनिधित्व करते हैं। मुख्यमंत्री राज्य के लोगों की आवाज होते हैं और प्रधानमंत्री ने उस आवाज का अपमान किसा। यह हमें स्वीकार्य नहीं है।’ उल्लेखनीय है कि इस बारे में पिछले सप्ताह उस समय विवाद उत्पन्न हो गया जब पिछड़े इझावा समुदाय के संगठन एसएनडीपी ने कोल्लम में पूर्व मुख्यमंत्री आर शंकर की प्रतिमा के अनावरण करने से संबंधित समारोह में शामिल होने वालों की सूची में चांडी का नाम नहीं शामिल किया था। इस समारोह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को शिरकत करनी है।

चांडी ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा है कि वह इससे काफी दुखी हैं। पंजाब के मुद्दे को उठाते हुए राहुल ने आरोप लगाया कि राज्य में निर्दोष लोगों को मारा जा रहा है। पंजाब की अकाली दल-भाजपा गठबंधन सरकार को निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आप सब लोगों को पता है कि पंजाब में क्या हो रहा है। निर्दोष लोगों को मारा जा रहा है। यह पूरी तरह व्यवस्था से बाहर चला गया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष ने कहा कि भाजपा को अपने काम करने का तरीका बदलना होगा। उन्होंने कहरा कि केरल में जो हुआ वह लोगों को स्वीकार्य नहीं है, पंजाब में जो हो रहा है, वह लोगों को स्वीकार्य नहीं है, असम में जो हुआ , वह भी लोगों को स्वीकार नहीं है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें