loading...

 

burhan-wani-7

loading...

जम्मू : भाजपा ने हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर बुरहान वानी को मारने वाले सैनिकों को रविवार को यह कहते हुए देश के शांतिकालीन सर्वोच्च सैन्य सम्मान अशोक चक्र देने की मांग की कि वह आतंकवादी था और उसे मरना ही था।

Read Also > इन लोगों द्वारा ऐसे हुई आतंकी बुरहान को राष्ट्रीय ‘हीरो’ बनाने की कोशिश

पूर्व भाजपा प्रदेश अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर विधानपरिषद के सदस्य अशोक खजूरिया ने कहा, ‘बुरहान वानी एक आतंकवादी था जिसे मरना ही था। जिन सुरक्षाकर्मियों ने उसे मारा, उनकी सराहना करने की जरूरत है। कर्मियों को अशोक चक्र प्रदान किया जाना चाहिए।’ उन्होंने कहा कि आतंकवाद से निबटने के लिए भाजपा का मत बिल्कुल स्पष्ट है कि जो देश को विभाजित करने के लिए बंदूक उठाता है, उससे कड़ाई से निबटने की जरूरत है।

Read Also > कभी अखबारों में ‘ब्राहमण, बनिया, क्षत्रिय युवक की मौत’ क्यों नहीं छपता है? ; रोहित सरदाना

उन्होंने कहा, ‘हमारा दृष्टिकोण स्पष्ट है, हमारे लिए यह यह भगवद गीता का संदेश है। भाजपा का मत बिल्कुल स्पष्ट है और हम किसी तरह तुष्टिकरण का समर्थन नहीं करते।’ नौ जुलाई को मुठभेड़ में बुरहान वानी के मारे जाने के बार कश्मीर घाटी में प्रदर्शनों का सिलसिला चल पड़ा।

Read Also > India में एक भी वानी जिंदा न बचें, पूरी दिलेरी से कहा आर्मी चीफ दलबीर सिंह ने!

 

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...