loading...

modi sena kashmir

नई दिल्ली – कश्‍मीर की मस्जिदों में हथियार और गोला बारूद होने की सम्भावना को देखते हुए मोदी सरकार चौकन्नी हो गयी है। खबरों के मुताबिक भारतीय इंटेलिजेंस एजेंसी ने मोदी सरकार को इस सम्बन्ध में एक रिपोर्ट सौंपी है। ऐसा माना जा रहा है की फ्रांस की तरह इन मस्जिदों पर छापे डाले जा सकते हैं।

Read Also > अच्छी खबर- भारतीय सेना ने आदर्श सोसाइटी को अपने कब्जे में लेना शुरू किया!
loading...

कुछ समय पहले अमेरिकन एजेंसी सीआईए द्वारा भी इस तरह की जानकारी भारत सरकार के साथ साझा की गयी थी। ऐसा माना जा रहा है कि पिछले कुछ समय से अलगाववादियों एवं आतंकियों द्वारा कई धार्मिक स्थलों में हथियार और गोला बारूद इकट्ठा किया जा रहा है।

Read Also > सेना को मिली खुली छूट, विजय दिवस पर वीरों को श्रद्धांजली LOC पर 4 को मार गिराया

इन हथियारों में ग्रेनेड, रॉकेट लांचर और एके 47 जैसे हथियार हो सकते हैं। अमेरिकन इंटेलिजेंस एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार पीओके स्थित कैंपों में इन हथियारों के इस्तेमाल की ट्रेनिंग देने की योजना चल रही थी।

Read Also > भारतीय सीमा पर जमा हो रही है पाक सेना, सचेत हुआ भारत

अमेरि‍की सरकार के कश्मीर में आतंकवाद के खात्मे पर सकारात्मक रुख और साझा की गयी सूचना के आधार पर मोदी सरकार कड़ी कार्यवाही करने का मन बना चुकी है। विशेष रूप से प्रशिक्षित आर्मी कमांडोज़ का दस्ता छापा मार कर हथियार बरामद करेगा और विरोध अथवा आर्मी पर हमला करने वालों के खिलाफ बेहद सख्ती से निपटा जायेगा।इंडियन आर्मी के एक अफसर के मुताबिक कार्रवाई प्रारम्भ होने की उल्टी गिनती शुरू हो चुकी है। मीडिया को इस आर्मी ऑपरेशन से दूर रखा जाएगा।

Read Also > सेना को मोदी सरकार से मिली किसी भी देश में घुसकर आतंकियों को मारने की छूट

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें