loading...
sapna ka
loading...
मशहूर गायिका सपना की मुसीबते बढ़ गई हैं। कुछ तथाकथित जातिवादी लोगों के आरोप लगे है कि उन्होंने दलितों कि भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। यही नहीं उनके खिलाफ इस मामले में एफआईआर दर्ज की गई है।

 

नई दिल्ली : हरियाणा और एनसीआर के लाखों दिलों पर राज करने वाली मशहूर गायिका सपना की मुसीबते बढ़ गई हैं। आरोप लगे है कि उन्होंने दलितों कि भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। यही नहीं उनके खिलाफ इस मामले में  एफआईआर दर्ज की गई है। आपको बता दे की सपना हरियाणा की रागिनी गायक हैं और केवल हरियाणा ही नहीं दिल्ली व राजस्थान में बहुत ही ज्यादा फेमस हैं। सपना के जलवे देखने के लिए लाखों लोगों की भीड़ जमा होती है। सोशल मीडिया पर भी उनके गाने के वीडियो आते हीं हिट (करोड़ों दृश्य) हो जाते हैं।

इस फसाद की जड़ है सपना का नया गाना
दरअसल इस पूरी फसाद की जड़ है उनका नया गाना जिसमें चमार और कुम्हार जाति के लोगों की भावना आहत होने का दावा किया गया है। गाने के बोल कुछ इस प्रकार हैं- “आज पढ़ लिख के नै तरक्की करगी, या बावली जात चमारा की, गधी बेच के खचरी ले ली होगी मौज कुम्हरा की”।

संजय चौहान ने दर्ज कराई FIR
सपना चौधरी बड़ी से बड़ी महफिल को भी रंगीन बना देती हैं। उनके खिलाफ जातिवादी संगठन बहुजन आजाद मोर्चा नाम से है कोई उसके अध्यक्ष संजय चौहान ने एफआईआर दर्ज करवाया है। संजय का दावा है कि सपना के गाने से दलितों की भावना आहत हुई है। आपको बता दें कि खुद संजय भी इसी समाज से हैं। यहाँ सपना के समर्थों का कहना है की संजय चौहान एक कट्टर जातिवादी मानसिकता का आदमी है ये इस मुद्दे को जानबूझकर उछालकर अपने वोट बैंक को बटोरना चाहता है।

चलो आपका दिल खुश करने के लिए आपको सपना के दो अभी हिट हो रहे गाना ही सुना देते है… अगले पन्ने पर विजिट करे देखे Video आपको मजा आयेगा सुनकर…. 

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें