loading...

विनीता सिंह | नई दिल्ली, 1 दिसम्बर 2015 tajmahal_144894866463_650x425_120115111434

 संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने सोमवार को लोक सभा में कहा कि सरकार को इस बात का कोई भी सुबूत नहीं मिला है कि ताजमहल एक हिंदू मंदिर है. गौरतलब है कि ताजमहल को हिन्दुओं का मंदिर घोषित करने और उसमें हिन्दुओं को ही पूजा करने का अधिकार देने की मांग के लिए आगरा की अदालत में याचिका दायर की गई थी.

संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने इसके अलावा यह भी कहा कि ताजमहल पर इस पूरे विवाद के बावजूद इसकी लोकप्रियता में कोई कमी नहीं आई है. साथ ही इसे देखने आने वाले लोगों की संख्या भी पहले से कम नहीं हुई है. इसके अलावा सरकार को भी इस विवाद के बाद पर्यटन की दृष्टि से कोई भी बूरा असर देखने को नहीं मिला है.

लेखकों और कलाकारों द्वारा साहित्य अकादमी अवाॅर्ड के लौटाये जाने के संबंध में बात करते हुए शर्मा ने बताया कि साहित्य अकादमी ने कार्यकारिणी बोर्ड की विशेष बैठक बुलाकर एक प्रस्ताव पारित किया है जिसमें लेखकों और कलाकारों पर हमला या हत्या किए जाने की निंदा की और पुरस्कार लौटा चुके लोगों से फिर से अपने फैसले पर विचार करने के लिए आग्रह किया गया है.

संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने बताया कि अब तक 39 लेखक ऐसे है जिन्होंने यह अवार्ड लौटा दिया है. इसके अलावा एक कलाकार ने अपना ललित कला अकादमी अवाॅर्ड लौटाया है.

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें