loading...

1448281167SHIVSENA

loading...
मुंबई: पाकिस्तान आतंकवाद (जिहाद) का पोषक है और अब यही आतंकवाद पूरे विश्व की शांति और सुरक्षा के लिए खतरा बन चुका है।  शिव सेना पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ के आज के संपादकीय में लिखा है कि पाकिस्तान जैसे दहशतगर्द राष्ट्र आतंकवादी संगठनों के निर्माता हैं और अमेरिका जैसे देशों ने उनकी मदद की। पेरिस में आईएसआईएस जैसे आतंकवादी संगठन के हमले के बाद संयुक्त राष्ट्र जागा और आतंकवाद के खिलाफ विश्वयुद्ध की घोषणा कर दी।

संपादकीय में आगे लिखा गया है कि हिदुस्तान को समझना चाहिए कि संयुक्त राष्ट्र की आईएस के खिलाफ लड़ाई वैश्विक शांति एवं सुरक्षा के लिए नहीं हो कर सिर्फ कुछ देशों के लिए है। सही मायने में यह वैश्विक लड़ाई तब मानी जाएगी जब पाकिस्तान स्थित आतंकवादी प्रशिक्षण अड्डों को भी ध्वस्त किया जाएगा।

संयुक्त राष्ट्र ने पेरिस में हुए हमले के 24 घंटे के अंदर आईएसआईएस को समाप्त करने की घोषणा कर दी लेकिन पाकिस्तान के आतंकवाद का भारत पिछले 60 वर्ष से सामना कर रहा है किंतु संयुक्त राष्ट्र ने इस पर कभी ध्यान नहीं दिया।  संयुक्त राष्ट्र में प्रस्ताव पास हुआ था कि इराक के खिलाफ हमला नहीं होगा लेकिन अमेरिका ने इसकी परवाह नहीं करते हुए इराक पर हमला किया और सद्दाम हुसैन का खात्मा कर दिया।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...