loading...

moulvi madrasa

चंडीगढ़ – हरियाणा के बांबेपुर गांव के नुसरत अली इस्लामिक मदरसे में चौथी क्लास के एक बच्चे को जंजीरों से बांधकर रखने का मामला सामने आया है। जानकारी पर बच्चे के पिता अय्यूब को मदरसे पहुंचे और बेटे की टांगें पशुओं की जंजीर से बंधी देखकर उसकी वीडियो बना ली। उन्होंने लोगों को भी वहां बुला लिया। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और बच्चे को छुड़वाया गया। जानें क्या है पूरा मामला…

Read Also > हिंदुस्तान में नफरत फ़ैलाने वाले मदरसों को बंद कर देना चाहिए : तारेक फ़तेह
loading...

– टीचर मुबारक व शबीर से बच्चे को जंजीर से बांधने की वजह पूछी गई तो उन्होंने कहा कि बच्चा मदरसे से भाग जाता है। होमवर्क भी नहीं करता। बच्चे को डराने के लिए ऐसा किया गया।

– बच्चे को पूछा गया तो बच्चे ने कहा की मौलाना मेरी पेंट खोलकर लुल्ली भी चूसता है व मेरे पीछे भी गलत काम करता है। बच्चे के बयान व पिछवाड़े की सूजन देखकर खिजराबाद पुलिस ने अय्यूब के बयान पर दोनों टीचरों के खिलाफ जुवेनाइल जस्टिस एक्ट सहित आईपीसी की धारा 323, 342, 506 व 34 के तहत केस दर्ज कर लिया है।

Read Also > भविष्य के लिए इस्लाम छोड़ना होगा: मलाला यूसुफ़ज़ई ?

– देर शाम तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई थी। सरपंच इशराना के पति जाहिद हैसन का कहना है कि मदरसे में पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं।

– 2007 में उनके बेटे को भी एक टीचर ने बांधकर पीटा था। बाद में टीचर को हटा दिया गया था।

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें