loading...

सिंहस्‍थ में संत गरजे, मोदी को छोड़ो हम नौ नवंबर से बनाएंगे राम मंदिर

loading...

“धर्मनगरी उज्‍जैन के सिंहस्‍थ कुंभ में अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की तिथि तय हो गई है। संतों ने धर्मसंसद में आखिरकार निर्माण पर फैसला कर लिया है। संतों ने गरजते हुए साफ कहा है कि मंदिर निर्माण से मोदी सरकार का कोई लेना देना नहीं है। ”

वह स्‍वयं एकजुट होकर इसी वर्ष कार्तिक अक्षय नवमी (नौ नवंबर) से मंदिर का निर्माण शुरू कर देंगे। संतों ने कहा कि जिसकी शुरुआत रामलला परिसर में सिंह द्वार निर्माण से की जाएगी। धर्मसंसद में संतों ने एकमत से बताया कि राममंदिर निर्माण से मोदी सरकार का कोई लेना-देना नहीं है। मंदिर जनता के सहयोग से बनाया जाएगा। हम सब मिलकर इसमें जो हो सकेगा पूरा सहयोग करेंगे।

श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण न्यास अयोध्या के अध्यक्ष महंत जन्मेजय शरण महाराज ने कहा कि राम जन्मभूमि, जिसे विवादित कहा जाता है, वहां की 77 एकड़ जमीन निर्मोही अखाड़ा की है। उन्होंने कोर्ट के आदेश का पालन करते हुए निर्माण की बात कही है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें