loading...

जम्मू: सियाचिन हिमनद में हिमस्खलन के बाद 25 फुट मोटी बर्फ की परत के नीचे दबा सेना का एक जवान चमत्कारिक रूप से छह दिनों बाद जिंदा मिला। उसकी हालत गंभीर है।iuyiiu

loading...
उत्तरी सैन्य कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल डी एस हुड्डा ने बताया, ‘एक चमत्कारिक बचाव अभियान था। सुबह लांस नायक हनामन थापा को आर आर अस्पताल ले जाने के लिए सभी प्रयास किये गए।’ उन्होंने बताया, ‘अब तक पांच शव बरामद किये जा चुके हैं और चार की पहचान हो चुकी है। दुखद है कि अन्य सैनिक हमारे साथ नहीं हैं।’ उन्होंने उम्मीद जतायी कि कर्नाटक के रहने वाले थापा के साथ एक और चमत्कार हो।

पाकिस्तान से लगी नियंत्रण रेखा के करीब 19000 फुट की उंचाई पर चौकी के हिमस्खलन की चपेट में आने से एक जुनियर कमिशंड अधिकारी (जेसीओ) और मद्रास रेजिमेंट के अन्य नौ अधिकारी जिंदा दफन हो गए थे। यहां पर तापमान शून्य से 45 डिग्री सेल्सियस नीचे रहता है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें