loading...

वॉशिंगटन : लॉस एंजिलिस के उपनगरीय इलाके में एक गुरूद्वारे में तोड़फोड़ की गई और आईएसआईएस विरोधी नारे लिखे गए। सिख समुदाय के नेताओं ने इस ‘घृणित अपराध’ को कैलिफोर्निया गोलीबारी की प्रतिक्रिया में किए जाने की आशंका जताई है।96847-us-sikh

loading...

लॉस एंजिलिस के एक उपनगर में स्थित सिख गुरूद्वारा बुएना पार्क के अध्यक्ष इंद्रजीत सिंह ने बताया, ‘अपने समुदाय के लोगों की सुरक्षा को लेकर हम चिंतित हैं। हमारा मानना है कि यह घृणित अपराध है और यह संभवत: सान बनार्दिनो हत्याकांड का सीधा नतीजा है।’ रविवार सुबह हुई घटना की स्थानीय कानून प्रवर्तन एजेंसियां जांच कर रही हैं।

वॉशिंगटन स्थित ‘सिख काउंसिल ऑन रिलिजन एंड एजुकेशन’ ने एक बयान में कहा कि रविवार सुबह गुरूद्वारे में तोड़ फोड़ की गई और घृणित नारे लिखे गए, जिन्हें गुरूद्वारा की दीवार और वहां खड़े एक ट्रक पर लिखा देखा जा सकता है। इन नारों में इस्लाम और आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल किया गया। गुरूद्वारा में साप्ताहिक आधार पर समुदाय के 800 से अधिक लोग आते हैं। व्हाइट हाउस को इस घटना की जानकारी दे दी गई और उन्होंने जांच के लिए मामला गृह सुरक्षा विभाग को भेजा है।

‘सिख काउंसिल ऑन रिलिजन एंड एजुकेशन’ के डॉ. राजवंत सिंह ने कहा, ‘समूचे अमेरिका में सिख समुदाय बहुत आशंकित हैं और इस हालिया घटना से वे बहुत परेशान हैं। हमने सभी सिख धार्मिक स्थलों को स्थानीय कानून प्रवर्तन एजेंसियों और निर्वाचित अधिकारियों से संपर्क में रहने की अपील की है।’ हाल में अमेरिका के राष्ट्रपति पद के कुछ उम्मीदवारों की ओर से की गयी मुस्लिम विरोधी बयानबाजी पर भी सिंह ने चिंता जताई है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...