loading...

jkgg

कश्मीर : पाकिस्तान में अभी दो ही काम हो रहे हैं। एक तरफ़ आतंकवाद को बढ़ावा, दूसरी तरफ़ महिलाओं से बुरी तरह से बलात्कार…

पाकिस्तानी आर्मी द्वारा बलूचिस्तान के स्थानीय लोगों पर ऐसे-ऐसे अत्याचार किए जा रहे हैं जो कुख्यात आतंकी संगठन ISISI की याद दिला रहे हैं।

1971 वाले हालात दोबारा लौटे
आम लोगों पर होने वाले पाकिस्तानी सेना के जुल्म पर बलूच मानवाधिकार ऐक्टिविस्टों ने बलूचिस्तान में पाकिस्तान द्वारा किए जा रहे मानवाधिकारों के उल्लंघन और महिलाओं पर अत्याचार की तुलना 1971 की बांग्लादेश की आजादी की लड़ाई से की है।

Next स्लाइड पर देखे- बलात्कार के बाद चल भी नहीं पाती महिलाएं 

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें