loading...

kavad

बदायूं। उच्चतम न्यायालय तथा शासन द्वारा दिए गए तालिबानी निर्देशों के अनुपालन में श्रावण मास में उत्तरप्रदेश में कांवड़ यात्रा के दौरान भजन बजाने पर प्रतिबन्ध लगा दिया गया है। यदि कोई व्यक्ति आदेशों की अवहेलना करेगा तो दण्डनीय होगा। साथ ही भण्डारा लगाने से पूर्व, स्थान एवं आयोजनकर्ता के सम्बन्ध में जिला प्रशासन को लिखित रूप से सूचना देनी होगी।

रोड के नजदीक न करें भंडारा

रोड से सटा कर भण्डारों के स्टॉल और ठेले आदि को न लगने दिया जाए जिससे रोड की चौड़ाई पर कोई प्रभाव पड़े और मार्ग अवरोध हो। उन्होंने कहा कि सभी एसओ अपने-अपने क्षेत्र के ग्राम प्रधानों के साथ अवश्य बैठक कर लें। पांच स्थानों लालपुल, नवादा, उझानी एवं कछला गंगा घाट पर क्रेन की व्यवस्था भी सुनिश्चित कराई जाएगी।

ताजा कमेन्ट- जान बूझकर दंगा करना चाहते हो, क्या मंशा है प्रशासन की और सरकार की, सब जानते है कभी मुस्लिम समाज इसका विरोध नहीं करेगा तो माहौल ऐसा बना दो पहले से ही की दंगा हो और आपकी राजनितिक रोटियां सिक सकें, थू है ऐसी जहनियत पर – Nishad Neeraj

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें