loading...

नई दिल्ली। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से जुड़े संगठन भारतीय शिक्षण मंडल की ओर से आयोजित तीन दिवसीय सम्मेलन के दौरान वैदिक मंत्रोच्चार के चिकित्सकीय प्रभाव, समाजशास्त्र के सिद्धांतों और प्राचीन भारत में जनसंचार विषयों पर शोधपत्र प्रस्तुत किए जाएंगे।

यह भी पढ़े : राम-लक्ष्मण के बाद क्या अब मोहम्मद साहब और अकबर पर भी चलेगा मुकदमा, पढ़िए ये खबर..

loading...

‘भारतीय शिक्षण मंडल’ भारतीय ग्रंथों से प्रेरणा लेते हुए तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का आयोजन कर रहा है जिसका लक्ष्य देश में हो रहे अनुसंधान में ‘‘आमूलचूल परिवर्तन’’ लाना है। इसका उद्घाटन मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी करेंगी और अन्य कई मंत्री भी इसमें हिस्सा लेंगे।

यह भी पढ़े : अयोध्या में ‘राम मंदिर’ निर्माण की तिथि घोषित, जानिए कब तक हो जाएगा पूरा

सम्मेलन में जिन विषयों पर चर्चा होनी है उनमें भारतीय ज्ञान प्रणाली- भविष्य के प्रति दृष्टिकोण, वसुधैव कुटुंबकम, शिक्षा, पर्यावरण मुख्य हैं।

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें