loading...

hicupps

हमारे समाज में लोगों ने किसी ना किसी बात को लेकर अपने ही भ्रम पाले हुए है जिनमें में से हिचकी भी एक है लोगों का मानना है कि अाने के मतलब है कि कोई हमें याद कर रहा है लेकिन मन बहलाने के लिए ये बाते अच्छी लगती है। डॉक्टर हिचकी के बारे में अलग ही बाते बताते है उनका कहना है कि जब छाती और पेट की मासेपेसिया सिकुड़ती है तो हमारे फेफड़े तेजी से हवा खिचने लगते है और सांस लेने में दिक्कत होने लगती है, जिस कारण हिचकी शुरू हो जाती है।

हिचकी आने के पीछे क्या होते हैं कारण

– एल्कोहल का सेवन
– जोर से सांस लेना
– तनाव
– खून की कमी
– दवाईयों के कारण
– मसालेदार खाना
– धुएं के कारण

हिचकी रोकने के उपाय

– अगर अापको लगातार हिचकी अा रही है तो अपने मुंह में चीनी डाल लें। एेसा करने से हिचकी तुरंत बंद हो जाती है।

– ध्यान भटकाने से भी हिचकी रूक जाती है इसके लिए आप 100 से 1 तक की उल्टी गिनती गिनना शुरू कर दें।

– गहरी लंबी सांसे लेकर सांस को कुछ सेकंड के लिए रोक कर रखें। ऐसा करने से हिचकी बंद हो जाएगी।

– हिचकी आने पर नींबू के साथ एक चम्मच शहद मिलाकर लेने से अाराम मिलता है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें