loading...

राजपूतों के बारे में एक बात हमेशा से कही जाती है की इनके खून में बहुत गर्मी होती है l ये लोग किसी भी व्यक्ति कि गलत बात बर्दाशत नहीं करते l अगर बात की जाए देश के प्रति इनके कर्तव्य कि तो ये देश के लिए अपनी जान भी निछावर कर देते हैं, और ये बात हम यूंही नहीं कह रहे है इसके पीछे एक खास वजह है जिससे ये साफ होता है कि राजपूत घराने के नौजवान देश के खातिर शहीद हो गए हैं l

राजपूत देश से इतना अधिक प्रेम करते हैं कि वो देश के खातिर किसी कि जान लेने से डरते हैं और ना ही जान देने से l इतिहास गवाह है इस बात का जब-जब मातृभूमि पर दुश्मनों ने नापाक़ नज़रें उठाई हैं, राजपूतों ने अपनी ताक़त से उसे वहीं रोक दिया l हालांकि, अब समय पूरी तरह से बदल चुका है l अब देश में लोकतंत्र की बहाली हो चुकी है, मगर राजपूतों के राष्ट्रप्रेम में कोई कमी नहीं आई है l लोकतंत्र में विश्वास रखते हुए राजपूत अपना राज-पाट त्याग, देश सेवा में लग गए l

rajputana

जब कभी भी देश में मुसीबत आ पड़ती है, तो सबसे पहले राजपूताना राइफल्स को याद किया जाता है l अगर आपको इनकी देशभक्ति का जज़्बा देखना हो तो उत्तर प्रदेश के मौधा गांव में ज़रूर जाइए l इस गांव के हर घर में एक सैनिक रहता है, जो देश के लिए बलिदान देने को तैयार रहता है l आज़ादी के बाद से इस गांव में अब तक 44 जवान शहीद हो चुके हैं. ये हैं देश के सच्चे सपूत, असली राजपूत !

राजनाथ सिंह ने इस गांव के बारे में जो कहा वो जानकार दंग रह जाएंगे, जानने के लिए क्लिक करें अगले पेज पर..

Click on Next Button For Next Slide

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें