loading...

301

loading...

भारत में कई ऐसे इलाके हैं, जहां बेटियों को बोझ समझा जाता है, लेकिन इसी देश में एक जगह ऐसी भी है जहां बेटियों के जन्म पर उत्सव मनाया जाता है।

यह स्थान है, राजस्थान के राजसमंद जिले का पिपलांत्री गांव। इस गांव में अगर बेटी जन्म लेती है तो गांव के लोग 111 पौधे लगाते हैं और उनके फलने-फूलने तक पूरी तरह देखरेख करते हैं। यही वजह है कि गांव के चारों ओर हरियाली छाई हुई है।

पेड़ को दीमक से बचाने के लिए इसके चारों तरफ घृतकुमारी का पौधा लगाया जाता है। ये पेड़ और घृतकुमारी के पौधे गांववालों की आजीविका के माध्यम बनते हैं।

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें