loading...

वाशिंगटन: भारत की एक कपड़ा कंपनी प्रतिभा सिंटेक्स लिमिटेड ने पाइरेटेड सॉफ्टवेयर के उपयोग के आरोप को निपटाने के लिए 1,00,000 डॉलर (या 66 लाख रुपये) के जुर्माने के भुगतान करने पर सहमत हो गई है। गौरतलब है कि पाइरेटेड सॉफ्टवेयर के इस्तेमाल से भारतीय कंपनी को अमेरिकी कंपनियों के मुकाबले प्रतिस्पर्धात्मक लाभ मिला।

प्रतीकात्मक फोटो
loading...
प्रतीकात्मक फोटो

30 दिन के भीतर करना होगा भुगतान
मध्य प्रदेश के इंदौर मुख्यालय वाली कंपनी प्रतिभा सिंटेक्स वालमार्ट समेत अमेरिकी की शीर्ष कंपनियों को कपड़े का निर्यात करती है। लॉस एजेंल्स की एक अदालत में दायर याचिका के मद्देनजर निपटान समझौते के मुताबिक, कपड़ा कंपनी 30 दिन के भीतर क्षति-पूर्ति के लिए 1,00,000 डॉलर के भुगतान पर सहमत हो गया है।

Next पर क्लिक कर आगे पढे > गैरकानूनी तरीके से कर रही थी काम… 

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें