कश्मीर में मैच से पहले बजा पाकिस्तानी राष्ट्रगान, खिलाड़ियों ने दिया सम्मान!

एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें एक कश्मीरी क्रिकेट क्लब के खिलाड़ी पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के जैसी जर्सी पहने हुए नज़र आ रहे हैं|और साथ ही मैच शुरू होने से पहले पाकिस्तान का राष्ट्रगान भी गा रहे हैं। यह मैच 2 अप्रैल को मध्य कश्मीर स्थित गंदेरबाल डिस्ट्रिक्ट के वायिल ग्राउंड पर खेला गया।

जब अलगाववादियों ने चेनानी-नाशरी टनल के उद्घाटन के लिए वहां पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में हड़ता किया था इस मैच का आयोजन उस समय हुआ। पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जर्सी पहने खिलाड़ियों की टीम का नाम बाबा दरया उद दिन था, वहीं विपक्षी टीम के खिलाड़ियों ने सफ़ेद जर्सी पहन कर मैच खेला। बाबा दरया उद दिन कश्मीर के प्रसिद्ध संत रहे हैं और उनकी दरगाह गंदेरबाल जिले में स्थित है।

मैच शुरू होने से पहले कमेंटेटर ने पाकिस्तानी राष्ट्रगान बजाने को कहा| इस वीडियो में यह कहते हुए कमेंटेटर की आवाज़ सुनाई दे रही है| और जिस प्ले ग्राउंड में यह मैच खेला गया वह पुलिस स्टेशन के काफ़ी नज़दीक था| एक वेबसाइट ‘इनयूथ डॉ कॉम’ ने जब ‘बाबा दरया उद दिन’ टीम के खिलाड़ियों से संपर्क करके इस मुद्दे के बारे में जानना चाहा तो उनका जवाब बिल्कुल सीधा सा था। खिलाडियों ने कहा- ‘हम अपनी टीम को सबसे अलग दिखाना चाहते थे। साथ ही हम अपने कश्मीरी भाई बहनों को ये बताना चाहते थे कि हम कश्मीर मुद्दे को भूले नहीं हैं। इसलिए लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए हमें यह तरीका सबसे उपयुक्त लगा।’

उनमें से कुछ खिलाड़ियों ने ये भी कहा-“पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जर्सी पहनना थोड़ा अटपटा और विवाद को बढ़ावा देने वाला लग रहा था, लेकिन जब टीम के अधिकतर खिलाड़ियों ने कोई आपत्ति नहीं दिखाई तो हमने भी उत्साह के साथ इस काम में उनका साथ दिया।”

पाकिस्तानी राष्ट्रगान को सम्मान देने पर जब खिलाड़ियों से सवाल किया गया कि उन्हें ऐसा करते डर नहीं लगा, तो उन्होंने कहा- ‘हमें डर क्यों लगेगा या हम क्यों डरेंगे जब कश्मीर दोनों देशों के बीच विवादित हिस्सा है। अल्लाह हमारे साथ है तो हमें क्यों डर लगेगा। हम किसी को नुकसान नहीं पहुंचा रहे थे बल्कि सिर्फ क्रिकेट खेल रहे थे। हम सिर्फ अपने तरीके और अपनी इच्छा के हिसाब से चीजें करना चाहते थे जिसका जुड़ाव हमारी मातृभूमि कश्मीर से हो।’  इस मैच के दर्शकों का कहना था-“इसे देखकर हमें आजादी का अहसास हो रहा था।”

देखिये वीडियो: