loading...

इतिहास गवाह है कि युद्ध कभी किसी मसले का हल नहीं रहे। युद्धों ने केवल हिंसाएं दी हैं और निर्दोष मानवता का खून बहाया है। यकीनन भारत और पाकिस्‍तान के बीच जो हालात इस समय हैं, वह पठानकोट आतंकी हमले के बाद लाहौर यात्रा वाले नहीं रहे हैं। लेकिन बावजूद इसके भारत के संयम की यह असली परीक्षा है। ऐसे में हमारी रणनीति यही होना चाहिए कि पाकिस्तान पर हमला बिलकुल मत करो, क्‍योंकि युद्ध किसी भी समस्या का हल नही और इसके जो दुष्परिणाम है, वो आपको और मुझे ही झेलना होंगे। इसका सबसे ज्‍यादा असर पडेगा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विकास के सपने पर। वह टूट जाएगा।

लेकिन युद्ध नहीं करने का मतलब यह नहीं है आतंकवाद के खिलाफ चुप्‍पी साधे रखो। इसका कतई ये मतलब नहीं कि दिग्‍गज पदों पर बैठे नेता गैर जिम्मेदारी से बयानबाजी करें, सच्चाई देश से छुपाएं, भारतीय पुलिस सेवा का अधिकारी अपने अपहरण की कहानियां सुनाता फिरे और हमारे जवान – अधिकारी मरते रहें। modi-nawaz

loading...
देखा जाए तो बेहद शर्मनाक है कि आजादी के सालों बाद भी भारत-पाक रिश्ते पटरी पर नहीं आ पाए हैं। पहले ना तो कांग्रेस को लेकर पाकिस्‍तान की पुख्ता समझ थी, और ना इस सरकार की दिखाई देती है।

कहने में कोई संकोच नहीं होना चाहिए कि वर्तमान सरकार में अब कोई पुख्‍ता नीति पाकिस्‍तान को लेकर दिखाई नहीं देती है। कभी योगा, कभी मेकइन इंडिया तो, कभी स्‍वच्‍छ भारत, इन तमाम मुद्दों को लेकर सरकार बहुत ही अहम मुद्दों को डाइवर्ट कर रही है। जाहिर है ये सरकार की पाकिस्‍तान को लेकर कमजोर इच्छा शक्ति का द्योतक है।

यह मुश्किल समय है जब देश सुरक्षा बलों के साथ है, 26 जनवरी सामने है और सरकार में सुरक्षा को लेकर जिम्मेदारी का अभाव दिखाई दे रहा है। पहले पंजाब, अब पठानकोट और फिर से अफगानिस्‍तान में भारतीय दूतावास पर आतंकी हमला, ये देश के लिए अच्‍छे संकेत नहीं है। सरकार में आने से पहले देश के पीएम जिस एग्रेशन का भरोसा देता था, वह तो पूरी तरह से गायब है। एग्रेशन का मतलब युद्ध नहीं है, बल्‍कि कूटनीतिक स्‍तर पर पाकिस्‍तान को लेकर एक निर्णय लेने की है।

यह कहना इसलिए है क्‍योंकि भाजपा सिर्फ मोदी केंद्रित ना रहकर अन्य मंत्रियों और अनुभवी लोगों को खुले हाथ से काम करने दें। अमित शाह और मोदी के परिपक्‍तवा कम से कम उतनी नहीं है जितनी की पार्टी के भीतर के कुछ कद्दावर नेताओं की।

Next पर क्लिक कर पूरी जानकारी जरूर पढ़े…. 

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें