आखिर क्यूँ विराट कोहली को जाना पड़ता था इस शख्स के पास…

विराट कोहली एक ऐसा नाम जिसकी दीवानगी लोगों के सर चढ़कर बोलती हैं. विराट जब मैदान में आते हैं तो उनका जुनून देखने लायक होता है उनका खेलने का एक अलग ही अंदाज होता हैं. लेकिन विराट की जिंदगी से जुड़ा एक किस्सा ऐसा है जो बहुत कम लोग जानते हैं. 

एक वक्त ऐसा था जब विराट कोहली को गलत शॉट खेलने पर थप्पड़ पड़ते थे. ये खुलासा मशहूर खेल पत्रकार विजय लोकापल्ली की लिखी किताब ‘ड्रिवेन: द विराट कोहली स्टोरी’ में हुआ है. किताब के अनुसार उस वक्त विराट के कोच राजकुमार शर्मा हुआ करते थे. राजकुमार शर्मा विराट के गलत शॉट खेलने पर उनको थप्पड़ मारते थे.

10 से भी कम उम्र का एक लड़का जिसका शरीर गोल-मटोल सा दिखने वाला वो हमेशा अपने पिता का हाथ पकड़े हुए वहां आया करता था. इतनी छोटी-सी उम्र में में ये लड़का जूनियर नहीं बल्कि सीनियर टीम के लिए खेलना चाहता था. ट्रायल के दौरान बाउंड्री से विकेटकीपर के दस्तानों में सीधा फेंका गया थ्रो देखकर कोच राजकुमार इस मोटे से लड़के से प्रभावित हो गए थे.

फ्लिक शॉट खेलने पर कोच राजकुमार विराट कोहली को थप्पड़ मारकर सजा दिया करते थे. इसकी वजह थी कि इस शॉट को खेलकर ज्यादातर क्रिकेटर आउट होते हैं. शायद इन थप्पड़ों और कोच और उनकी मेहनत की बदौलत ही विराट के खेल में निखार आया है. आज विराट के दमदार शॉट की दुनिया दीवानी है.

अब इजाज़त लेकर करेंगे श्रीराम की पूजा ? हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ आसान ?

ताल ठोक के: अब इजाज़त लेकर करेंगे श्रीराम की पूजा ? हिंदुओं की आस्था से खिलवाड़ आसान ?

बंगाल में आज होने वाले राम नवमी समारोह पर ममता सरकार ने बंगाल में रोक लगा दी थी| जिसके बाद लोग कलकत्ता हाईकोर्ट भी गए और कोर्ट ने इस रोक को खारिज कर दिया है| अब सवाल ये उठता है की ऐसी नौबत आई ही क्यों ? क्या ममता बनर्जी अपने हिसाब से लोगों के धर्म को चलाएंगी|

यह बात सुनकर ममता बनर्जी खुद के गिरेवान पर झाँकने को हो जायेंगी मजबूर…

बंगाल में आज होने वाले राम नवमी समारोह पर ममता सरकार ने बंगाल में रोक लगा दी थी| जिसके बाद लोग कलकत्ता हाईकोर्ट भी गए और कोर्ट ने इस रोक को खारिज कर दिया है| अब सवाल ये उठता है की ऐसी नौबत आई ही क्यों ? क्या ममता बनर्जी अपने हिसाब से लोगों के धर्म को चलाएंगी|

ममता बनर्जी ने अपने एक ब्यान में कहा की राम नवमी कोई दंगा फसाद करने का मौका नहीं है बल्कि मानवता और प्रेम का त्यौहार है| ममता बनर्जी का कहना है की मेरी सरकार बंगाल में सांप्रदायिक भावनाए पनपने नहीं देगी| ये कोई पहला मौका नहीं है जब ममता ने हिन्दुओं की आस्था को ठेस पहुचाई हो, इससे पहले भी वे दुर्गा पूजा पर भी रोक लगा चुकी है| इससे तो यही अंदाज़ा लगाया जा सकता है की वोट बैंक के खातिर ममता ने श्री राम के नाम का फायेदा उठाकर उन्ही पर चोट लगा दी है|

इस पर भी ममता का कहना था की राम नवमी के दिन भगवान् राम की पूजा होती है और भगवान् राम रावण का वध करने के लिए अवतरित हुए थे यह दिन प्यार का प्रतीक है और हमारे बंगाल में पुराण और कुरान दोनों के लिए जगह है न की सिर्फ एक धर्म के लिए|

वहीँ ममता बनर्जी द्वारा मुस्लिमों के हित में और हिन्दुओं के खिलाफ बातें सुनते ही बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा बिलकुल भी नहीं रुके थामें और सीधा ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए संबित पात्रा ने ममता बनर्जी की धजियाँ उड़ा दी|

संबित ने कहा की ममता बनर्जी चाहे जितनी मर्जी नमाज अदा कर लें लेकिन उनका नाम हमेशा इतिहास में जय चन्द के ही नाम से लिया जायेगा| साथ ही संबित ने बंगाल के मुसलमानों से गुज़ारिश करते हुए कहा की आप लोगों से विनती है की ममता बनर्जी की बातों में न आयें क्योंकि जो इंसान अपने धर्म का न हुआ वो आपका क्या होगा यह सब वोट बैंक के लिए हो रहा है|

देखें वीडियो-

आपको बता दें की ममता बनर्जी के राज में जिस तरह पुरे बंगाल में हिन्दुओं का दमन हो रहा है अगर ऐसा ही चलता रहा तो वो दिन भी दूर नहीं जब बंगाल हिन्दुओं के लिए दूसरा कश्मीर बन जाएगा|

कश्मीर में मैच से पहले बजा पाकिस्तानी राष्ट्रगान, खिलाड़ियों ने दिया सम्मान!

एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है, जिसमें एक कश्मीरी क्रिकेट क्लब के खिलाड़ी पाकिस्तानी क्रिकेट टीम के जैसी जर्सी पहने हुए नज़र आ रहे हैं|और साथ ही मैच शुरू होने से पहले पाकिस्तान का राष्ट्रगान भी गा रहे हैं। यह मैच 2 अप्रैल को मध्य कश्मीर स्थित गंदेरबाल डिस्ट्रिक्ट के वायिल ग्राउंड पर खेला गया।

जब अलगाववादियों ने चेनानी-नाशरी टनल के उद्घाटन के लिए वहां पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विरोध में हड़ता किया था इस मैच का आयोजन उस समय हुआ। पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जर्सी पहने खिलाड़ियों की टीम का नाम बाबा दरया उद दिन था, वहीं विपक्षी टीम के खिलाड़ियों ने सफ़ेद जर्सी पहन कर मैच खेला। बाबा दरया उद दिन कश्मीर के प्रसिद्ध संत रहे हैं और उनकी दरगाह गंदेरबाल जिले में स्थित है।

मैच शुरू होने से पहले कमेंटेटर ने पाकिस्तानी राष्ट्रगान बजाने को कहा| इस वीडियो में यह कहते हुए कमेंटेटर की आवाज़ सुनाई दे रही है| और जिस प्ले ग्राउंड में यह मैच खेला गया वह पुलिस स्टेशन के काफ़ी नज़दीक था| एक वेबसाइट ‘इनयूथ डॉ कॉम’ ने जब ‘बाबा दरया उद दिन’ टीम के खिलाड़ियों से संपर्क करके इस मुद्दे के बारे में जानना चाहा तो उनका जवाब बिल्कुल सीधा सा था। खिलाडियों ने कहा- ‘हम अपनी टीम को सबसे अलग दिखाना चाहते थे। साथ ही हम अपने कश्मीरी भाई बहनों को ये बताना चाहते थे कि हम कश्मीर मुद्दे को भूले नहीं हैं। इसलिए लोगों का ध्यान आकर्षित करने के लिए हमें यह तरीका सबसे उपयुक्त लगा।’

उनमें से कुछ खिलाड़ियों ने ये भी कहा-“पाकिस्तानी क्रिकेट टीम की जर्सी पहनना थोड़ा अटपटा और विवाद को बढ़ावा देने वाला लग रहा था, लेकिन जब टीम के अधिकतर खिलाड़ियों ने कोई आपत्ति नहीं दिखाई तो हमने भी उत्साह के साथ इस काम में उनका साथ दिया।”

पाकिस्तानी राष्ट्रगान को सम्मान देने पर जब खिलाड़ियों से सवाल किया गया कि उन्हें ऐसा करते डर नहीं लगा, तो उन्होंने कहा- ‘हमें डर क्यों लगेगा या हम क्यों डरेंगे जब कश्मीर दोनों देशों के बीच विवादित हिस्सा है। अल्लाह हमारे साथ है तो हमें क्यों डर लगेगा। हम किसी को नुकसान नहीं पहुंचा रहे थे बल्कि सिर्फ क्रिकेट खेल रहे थे। हम सिर्फ अपने तरीके और अपनी इच्छा के हिसाब से चीजें करना चाहते थे जिसका जुड़ाव हमारी मातृभूमि कश्मीर से हो।’  इस मैच के दर्शकों का कहना था-“इसे देखकर हमें आजादी का अहसास हो रहा था।”

देखिये वीडियो:

जिसे अपनी ढाल बनाया था उसी राम जेठमलानी ने अपने इस बयान से केजरीवाल को कहीं का नहीं छोड़ा!

अरुण जेटली मानहानि केस में केजरीवाल के वकील राम जेठमलानी ने एक बड़ा ही चौंकाने वाला खुलासा किया है जिससे केजरीवाल की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

अरविन्द केजरीवाल ने हाल ही में पूरी दिल्ली की जनता को धोखा दिया है जिसके बाद से अधिकांश लोगों का केजरीवाल से भरोसा उठ गया है l अरविन्द केजरीवाल अपने केस के लिए सरकारी पैसे का इस्तेमाल करना चाहते थे, लेकिन उन्होंने जिस वकील को केस लड़ने के लिए दिया था उन्होंने ही केजरीवाल के बारे में ऐसा खुलासा किया है कि अब उनका बचना नामुमकिन है l

राम जेठमलानी ने अपने एक बयान में कहा है कि “मैंने आडवाणी, अमित शाह और बाल ठाकरे जैसे बड़े नेताओं के लिए भी केस लड़ा है लेकिन उनसे एक रुपया भी फीस के नाम पर नहीं लिया। केजरीवाल के मामले में सफाई देते हुए उन्होंने कहा कि मैंने तो केजरीवाल से भी फीस के लिए नहीं कहा था लेकिन जब उन्होंने मुझपर जोर डाला तो मैंने बिल बनाकर भेज दिया।” इसके साथ ही जेठमलानी ने ये भी कहा कि उन्होंने केजरीवाल को फीस में डिस्काउंट दिया है।

इसके बाद उन्होंने बताया कि, मैं अन्य क्लायंट्स से कई तरह के टैक्सेज की फीस लेता हूं,वो भी मैंने मांगी ही नहीं है,  ।उन्होंने केजरीवाल को पेशी की फीस भी कम बताई है। इसके अलावा हर पेशी के बाद होने वाली कॉन्फ्रेंस के लिए भी मैंने कोई पैसा नहीं मांगा है।

जेठमलानी फीस के लिए दवाब नही डाल रहे तो केजरीवाल सरकारी खजाने से पैसा क्यों निकालना चाहते हैं? जब जेठमलानी फीस में रियायत भी दे रहे हैं तो आखिर केजरीवाल 3.8 करोड़ का बिल LG के पास क्यों भेज रहे हैं? कहीं जेठमलानी के नाम पर केजरीवाल जनता का पैसा तो नही खाना चाहते?a

आपको बता दें कि फीस मुद्दे पर जब विवाद ज्यादा बढ़ गया था तो राम जेठमलानी ने कहा था कि अगर दिल्ली सरकार उनकी फीस देने में अक्षम है, तो वह मुफ्त में केजरीवाल के केस लड़ेंगे। उन्होंने तंज कसते हुए कहा था कि मैं गरीबों का केस मुफ्त में लड़ता है और केजरीवाल को गरीब मानकार ही केस लडूंगा l

जब भीड़ से आई एक माँ के चिल्लाने की आवाज तो सीएम योगी ने कहा बुलाओ उसे और…

उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री योगी में लोगों को एक नई उम्मीद दिख रही है और शायद यही वजह है कि लोग अपनी सभी तरह की फरियाद लेकर बड़ी संख्या में सीएम योगी के पास पहुंच रहे हैं। फिर बात हो चाहे तीन तलाक से पीड़ित किसी महिला की या फिर कोई और बात सबको पता है कि यहाँ बात सीएम योगी के कान में गयी तो उधर झट इसका हल भी योगी जी निकाल ही देंगे|

ऐसा ही एक वाक्या हुआ हुआ शुक्रवार को| दरअसल योगी आद‍ित्यनाथ शुक्रवार को लखनऊ के कान्हा उपवन की जांच-पड़ताल करने पहुंचे थे। इस बीच एक महिला सीएम से मिलने के लिए भीड़ में चिल्ला रही थी। उस महिला की आवाज सुनकर योगी ने सिक्युरिटी से कहा, “उसे यहां बुलाओ। बच्चे को गोद में लिए महिला सीएम के पास पहुंची और उसने एक अर्जी देकर अपना दर्द बयां किया|”

महिला राजधानी के सरोजनी नगर इलाके की रहने वाली थी। उसने सीएम से कहा, ”योगी जी आप सफाई अभियान चला रहे हैं, लेकिन मेरे घर के बाहर लंबे समय से सड़क टूटी पड़ी है। गंदा पानी घरों में घुस जाता है। पैर फिसलने से बच्चों को चोट भी आ चुकी है। स्थानीय नेताओं से शिकायत के बाद भी सुनवाई नहीं हुई।”

देखिये वीडियो: 

शर्मनाक: वो बच्चा वहां एम्बुलेंस में मौत से लड़ रहा था और इधर इस VIP का काफिला….

आजकल के समय के हिसाब से सही ही कहा गया है कि हम इस भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में इंसान की जान की कोई कीमत नहीं समझते और शायद तभी तो कभी सड़क लहूलुहान पड़े इंसान के साथ फोटो खींचना लोगों को ज़्यादा ज़रूरी लगता है तो कभी एम्बुलेंस रोक कर वीआईपी लोगों की गाड़ी गुजरने के लिए की जान से खेलना आजकल ट्रेंड बनता जा रहा है|

ऐसा ही एक दुर्भाग्यपूर्ण मामला सामने आया है जहाँ एक बार फिर दिल्ली पुलिस का यह ग़ैरज़िम्मेदाराना रवैये ने लोगों को गहरा झटका दिया है| दरअसल दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय स्टेडियम के सामने एक एम्बुलेंस को आगे बढ़ने से रोक दिया गया क्योंकि वहां से एक वीआईपी काफ़िला गुज़र रहा था| एम्बुलेंस एक ज़ख़्मी, खून से लथपथ बच्चे को अस्पताल लेकर जा रही थी|

सोशल मीडिया पर ये वीडियो इस वक़्त वायरल हो रहा है| इस वीडियो में स्पष्ट रूप से दिख रहा है कि पुलिस ने रास्ता रोक रखा है और आस-पास खड़े लोग पुलिस से एम्बुलेंस को आगे जाने देने के लिए कोशिश कर रहे हैं| घटना दिल्ली के इंदिरा गांधी राष्ट्रीय स्टेडियम के गेट संख्या 14 के सामने आईपी एस्टेट की है| उस मार्ग से मलेशिया के प्रधानमंत्री का काफ़िला गुज़रने वाला  था| पुलिस ने बैरिकेड लगाकर रास्ता रोक रखा था|

देखिये वीडियो: 

हालाँकि इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि वो लोग सिर्फ प्रोटोकॉल और आदेशों का पालन कर रहे थे| एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि वह एम्बुलेंस भीड़ में काफी पीछे फंसी थी जिसे उनके द्वारा गाड़ियों की पंक्ति में सबसे आगे लाया गया और कुछ ही मिनटों में उसे रवाना भी कर दिया गया|

समर सरप्राइज ऑफर में ऐसा क्या लेकर आये अंबानी जिसकी वजह से हुआ ये कमाल…

जियो अपने यूजर्स के लिए जो ऑफर लेकर आया उससे ज्यादा से ज्यादा लोग जियो के साथ जुड़े. 6 महीने के लिए जियो ने अपने यूजर्स के लिए सबकुछ फ्री कर दिया. जियो ने कम समय में ज्यादा से ज्यादा यूजर को अपने साथ जोड़ने का विश्व रिकॉर्ड भी बना लिया हैं. इस कड़ी में ही जियो ने 31 मार्च को फिर से समर सरप्राइज ऑफर लांच किया. जिसकी वजह से बचे हुए यूजर भी अपना नंबर जियो में पोर्ट करा रहे हैं.

जियो की वजह से पिछले हफ्ते मुकेश अंबानी  ने 7 दिनों के अंदर 15 हजार करोड़ रूपए कमा लिए. जिसकी वजह से मुकेश अंबानी विश्व के 24वें अमीर इंसान बन गए. इससे पहले 29 मार्च तक वो 26वें अमीर इंसान थे. ब्लूमबर्ग बिलेनियर इंडेक्स के अनुसार 4 अप्रैल को मुकेश अंबानी की सम्पति 29.7 अरब डॉलर थी जो की इंडियन रुपये में 1.96 लाख करोड़ हो गई है.

इससे पहले मुकेश अंबानी के पास 27.4 अरब डॉलर सम्पति थी. उन्होंने माइक्रोसॉफ्ट के पूर्व सीईओ स्टीव बॉमर को पीछे करके विश्व के 24वे अमीर व्यक्ति का स्थान प्राप्त किया. एक्सपर्ट की माने तो जियो की पेड सर्विसेज लांच होने के कारण जियो की इनकम तेजी से बढ़ी है. जिसके कारण रिलाइंस इंडस्ट्रीज के स्टोक्स में तेजी से उछाल आया. जियो की पेड सर्विसो में सबसे ज्यादा प्रभाव प्राइम मेम्बरशिप का रहा है. जिसके कारण जियो ने इतने कम समय में ज्यादा पैसे कमाये है.

 

फाइव स्टार होटल का आराम छोड़ कर इस नेता ने अपनाया गौशाला में रहना

यदि हममें से किसी के पास भी फाइव स्टार होटल में रहने का मौका हो तो हम बहुत ही उत्साह के साथ उस मौके को अपना लेंगे| लेकिन इस नेता ने हमारी इस सोच को गलत साबित कर दिया| भारतीय जनता पार्टी के केंद्रीय मंत्री एस सुरेश कुमार ने फाइव स्टार होटल में रहने का मौका छोड़ कर म्य्सूर के गाँव के गौशाला में रहना पसंद किया|

हालाँकि खुली जगह या गौशाला में रहना कुमार के लिए कोई नई बात नहीं है| सुरेश कुमार ने कहा-” मैं पहले भी बेंगलुरु से तिरुपति की 2013 की यात्रा में खुली जगहों पर रह चुका हूँ| मैं ऐसी जगहों पर तब भी रह चुका हूँ जब मैंने धर्मस्थल और सबरीमाला के लिए 2015 में पदयात्रा की थी|”

कुमार बेंगलूर दक्षिण उपनगर में राजजिनगर विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र का प्रतिनिधित्व करते हैं और 9 अप्रैल के लिए निर्धारित होने वाले नानजंगुद उप-चुनाव में भाजपा के उम्मीदवार श्रीनिवास प्रसाद के लिए प्रचार कर रहे हैं।

कुमार ने कहा-“पार्टी के नेताओं ने मेरे लिए अच्छे से अच्छा रहने का बंदोबस्त किया था पर मैंने उसे न स्वीकारने का निश्चय किया|” वे दिन भर काम्पैन्गिंग से थक क्र आने के बाद गौशाला में रहना ज्यादा पसंद करते हैं| गौशाला में वे समाचार पत्र पढकर और अपने अनुयायियों से बात चीत करके अपना समय बिताते हैं| अपनी निष्कलंक समझ बूझ कि वजह से अक्सर ही वे लोगो को अपनी बातों की ओर आकर्षित कर लेते हैं|

नहीं देखा होगा इससे पहले इतना हॉट मुर्गा डांस, देखकर आप भी करने लगेंगे डांस… देखें वीडियो!

भारत विविधताओं से भरा देश है। यहां जाति-धर्म के अलावा अनेक विविधताएं देखने को मिलती हैं। हर जाति-धर्म के लोगों की अपनी अलग संस्कृति है। हर प्रान्त की अपनी अलग संस्कृति है। उसके अलावा भारत में कई भाषाएं भी बोली जाती हैं। जानकारी के अनुसार भारत में 1000 से ज्यादा बोलियां बोली जाती हैं। शायद ही इतनी ज्यादा बोलियां किसी और देश में बोली जाती होंगी। भारत में एक समानता देखने को मिलती है। यहां के लोग मौज-मस्ती के दीवाने हैं। यही वजह है कि कोई भी मौका हो, यहां के लोग उसे अच्छी तरह से जीना जानते हैं।

बढ़ती जा रही है डांस की लोकप्रियता:

शायद ही कोई ऐसा कार्यक्रम होता होगा, जिसमें खुलकर सभी डांस नहीं करते होंगे। अगर खुद डांस नहीं करते हैं तो डांस करने के लिए डांसरों को बुलाया जाता है। आजकल हर क्षेत्र में डांस की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। उत्तर भारत के बिहार राज्य और उसके आस-पास के राज्यों में भोजपुरी का बोलबाला है। भोजपुरी फिल्में और गाने लोगों की जुबान पर छाए रहते हैं। कुछ समय पहले तक भोजपुरी को एक मीठी और प्यारी बोली के रूप में जाना जाता था। लेकिन कुछ समय से इस बोली को काफी दूषित किया गया है।

आये दिन इस भाषा में बनाने वाली फिल्में और गाने अश्लीलता की हद पार करते दिख रहे हैं। भोजपुरी फिल्मों में ऐसे-ऐसे गाने डाले जाते हैं, जिन्हें आप परिवार के सदस्यों के बीच बैठकर न तो सुन सकते हैं और न ही देख सकते हैं। खैर भोजपुरी बोले जाने वाले इलाकों में आर्केस्ट्रा का खूब चलन है। कोई भी कार्यक्रम हो, डांस करने के लिए डांसरों को बुलाया ही जाता है।

हॉट डांसरों के साथ करता है मुर्गा डांस:

आज हम आपको एक ऐसा ही डांस दिखाने जा रहे हैं जिसे देखकर आप खूब हंसेंगे, लेकिन यह भी है कि इससे पहले आपने इतना हॉट मुर्गा डांस भी नहीं देखा होगा। जी हां! मुर्गा डांस। दरअसल एक कार्यक्रम के दौरान स्टेज पर एक आदमी कपड़े निकालकर मुर्गे जैसा रूप बनाकर दो हॉट डांसरों के साथ अंग्रेजी म्यूजिक पर डांस करता है। इस म्यूजिक को भोजपुरी भाषाई इलाकों में मुर्गा म्यूजिक के नाम से जाना जाता है।

वीडियो देखें-