loading...

politics-unhappy-at-rajya-sabha-functioning-awgp-head-dr-pranav

loading...

नई दिल्ली। दो दिन पहले ही राज्यसभा के लिए मनोनीत हुए गायत्री परिवार के संचालक व शांतिकुंज प्रमुख डॉ. प्रणव पंड्या ने मोदी के इस प्रस्ताव को ना कह दिया है। डॉ प्रणव पंड्या ने दिल्ली में बीजेपी के कुछ लोगों से मिलकर ये बात कही। पंड्या का कहना है कि उनके पास इस काम के लिए वक्त की कमी है इसलिए वो राज्यसभा की जिम्मेदारियों को नहीं उठा सकते। हालांकि उन्होंने राज्यसभा के लिए मनोनीत किए जाने पर प्रधानमंत्री मोदी का धन्यवाद भी दिया।

राज्यसभा में नहीं कह पाएंगे अपनी बात – प्रणव पंड्या ने कहा कि प्रस्ताव मिलने पर उन्हें महसूस हुआ कि वो सदन से गायत्री परिवार के संदेश को पूरे देश में फैला सकते हैं लेकिन अब उन्हें लगता है जिस तरह से राज्यसभा में कामकाज होता है, उसमें वो अपनी बात नहीं कह पाएंगे।

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें