loading...

nsg-47-modi

loading...

न्यूक्लियर सप्लायर्स ग्रुप (NSG) की मीटिंग में 48 में से 47 देशों ने भारत की दावेदारी के सपोर्ट में आ गए हैं। भारत की मेंबरशिप का विरोध कर रहे ब्राजील और कनाडा भी अब समर्थन देने पर राजी हो गए हैं। हालांकि, चीन विरोध पर अड़ा हुआ है। शुक्रवार को फिर मीटिंग होगी। इसमें अहम फैसला लिया जा सकता है। इसके पहले, ताशकंद में नरेंद्र मोदी ने भी चीन के प्रेसिडेंट शी जिनपिंग से मुलाकात में कहा था कि भारत की दावेदारी को लेकर चीन हमारे मेरिट पर सोचे।

ब्राजील अब तक भारत की मेंबरशिप एप्लीकेशन का विरोध कर रहा था। लेकिन शुक्रवार को उसका रुख बदल गया। भारत को समर्थन का एलान करते हुए ब्राजील ने कहा- इसमें कोई दो राय नहीं कि न्यूक्लियर मुद्दे पर भारत का रिकॉर्ड पाकिस्तान से काफी बेहतर है। हालांकि, भारत के लिए चिंता की बात स्विटजरलैंड है। उसका रुख एकदम साफ नहीं है। शुक्रवार को मोदी रशियन प्रेसिडेंट व्लादिमीर पुतिन से बातचीत होगी। 

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें