loading...

nasनई दिल्ली : मैगी पर प्रतिबंध से प्रभावित नेस्ले इंडिया का शुद्ध लाभ 31 दिसंबर, 2015 को समाप्त चौथी तिमाही में 43.87 प्रतिशत घटकर 183.19 करोड़ रुपये रह गया। इससे पिछले साल इसी अवधि में कंपनी को 326.38 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। नेस्ले जनवरी से दिसंबर का वित्त वर्ष लेकर चलता है।

नेस्ले ने बंबई शेयर बाजार को दी सूचना में बताया कि पिछली तिमाही में कंपनी की शुद्ध बिक्री 22.64 प्रतिशत घटकर 1,946.44 करोड़ रुपये रही जो इससे पिछले साल इसी अवधि में 2,516.1 करोड़ रुपये रही थी। दिसंबर 2015 में समाप्त पूरे वित्त वर्ष के दौरान कंपनी का मुनाफा 563.27 करोड़ रुपये रहा जबकि कुल बिक्री 8,123.27 करोड़ रुपये रही।

यह भी पढ़े > Coca-Cola के बुरे दिन, भारत में तीन प्लांटों को किया बंद

loading...

नेस्ले के चेयरमैन एवं एमडी सुरेश नारायण ने कहा, ‘…. मैगी नूडल्स संकट की वजह से हमारे वित्त पर पड़े असर के बावजूद भविष्य को लेकर हमारी उम्मीद से हमें बेहतर लाभांश भुगतान में मदद मिली है। चौथी तिमाही में सबसे बेहतर मैगी का बाजार में और ग्राहकों के पास लौटना रहा जिनसे यह जुड़ी हुई है।’ कंपनी ने कहा है कि उसे मैगी की वजह से काफी असहज स्थिति का सामना करना पड़ा और इससे उसके दूसरी, तीसरी और चौथी तिमाही के कारोबार पर असर पड़ा।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें