loading...

Abdul Kalam

loading...

तमिलनाडु की एक मुस्लिम संस्था ने भारत के पूर्व राष्‍ट्रपति और प्रख्‍यात वैज्ञानिक स्‍वर्गीय एपीजे अब्‍दुल कलाम की मूर्ति बनाए जाने का विरोध किया है। जमातुल उलेमा काउंसिल का तर्क है कि कलाम मुसलमान थे, इसलिए उनकी मूर्ति नहीं बननी चाहिए। संस्‍था का कहना है कि शरीयत के मुताबिक इस्‍लाम में मूर्ति पूजा नहीं की जा सकती है, ऐसे में अब्‍दुल कलाम की प्रतिमा बनाया जाना गलत है।

मालूम हो कि अब्‍दुल कलाम को भारत में ही उनके उनके पैतृक जिले रामनाथपुरम के रामेश्‍वरम में दफनाया गया था। भारत सरकार उसी जगह पर उनकी मूर्ति और स्‍मारक बनवा रही है न की शिरिया में?

आगे की स्‍लाइड में जानें कलाम का मूर्ति निर्माण रोकने के लिए मुस्‍लिम संस्‍था ने उनके परिवार से क्‍या कहा?

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें