loading...

hindu-muslim

loading...

आजकल एक चर्चा चारों तरफ बड़ी जोर से की जा रही है कि मुस्लिमों की आबादी भारत देश में हिन्दुओं की अपेक्षा अधिक तेजी से बढ़ रही है।

इस बात को लेकर कभी संघ के बड़े नेता तो कभी बीजेपी के बड़े धार्मिक नेता अपनी चिंता व्यक्त कर देते हैं। किन्तु सवाल यह है कि अगर मुस्लिमों की आबादी भारत देश में हिन्दुओं से अधिक हो भी गयी तो क्या कोई प्रलय आ जाएगी? या हिन्दुओं पर कोई पहाड़ टूट पड़ेगा?

असल में जिस तरह से चिंता की जा रही है वह वाकई गंभीर लग रहा है।

आइये पढ़ते हैं कि क्या होगा अगर मुस्लिमों की आबादी बढ़ गई और क्या कह रहे हैं हिन्दू संस्थान-

2035 तक भारत में मुसलमानों की आबादी बढ़ कर 92.5 करोड़ हो जाएगी और हिन्दू आबादी सिर्फ 90.2 करोड़ तक ही पहुंच पाएगी। 2040 आते-आते हिन्दू त्योहार मनाए जाने बंद हो जाएंगे, बड़े पैमाने पर धर्मांतरण और गैर मुस्लिमों का नरसंहार होगा और 2050 तक पहुंचते-पहुंचते मुसलमान 189 करोड़ से भी ज्यादा हो जाएंगे और भारत एक मुस्लिम राष्ट्र हो जाएगा। 

आप जब ऊपर दिए गये आंकड़ों को खोजने का प्रयास करेंगे तो आपको यह आंकड़े हजारों जगह मिल जायेंगे, किन्तु अब सवाल फिर वही है कि क्या जब भारत में मुसलमान ज्यादा हो जायेंगे तो क्या हिन्दुओं पर पहाड़ टूट पड़ेगा? लेकिन सच यह है कि हिदू यह सोचकर ही डर रहा है और उसकी रूह काँप जाती है।

आगे पढे असल में किस तरह से राजनैतिक लोग उठा रहे हैं फायदा

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें