अयोध्या प्रकरण पर बोले मुलायम सिंह यादव, “वहां मंदिर बने या मस्ज़िद…”

उप्र के विधानसभा चुनाव में सपा की करारी हार के बाद मुलायम सिंह यादव के दिल की बात शनिवार को जुबां पर आ ही गई। दरअसल शनिवार को एक सभा को संबोधित करते हुए मुलायम सिंह यादव ने कहा कि, “अब जितना अपमान हुआ, उतना पहले कभी नहीं हुआ। ये अपमान भी अपनों ने ही दिया। जो अपने बाप का नहीं हुआ, वो किसी का नहीं हो सकता| मोदी को ये कहने का मौका अपनों ने ही दिया और इसीलिए सपा बुरी तरह से चुनाव हार गई।”

इस मौके पर मुलायम सिंह यादव के शब्दों में राजनीतिक हार की निराशा साफ़ झलक रही थी| मौका था मुलायम सिंह यादव की अपनी कर्मभूमि मैनपुरी में पैक्सफेड के अध्यक्ष तोताराम के होटल के उद्घाटन समारोह का, जहाँ उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए ये बात रखी|

इस सभा में मुलायम सिंह यादव ने पहली बार यूपी चुनाव में करारी हार के बाद अपनी चुप्पी तोड़ी थीl उन्होंने मैनपुरी में अपने इस भाषण के दौरान अयोध्या प्रकरण का जिक्र करते हुए कहा कि, “मंदिर बने या मस्जिद, पहली ईंट मैं रखूंगा और ये बात पहले भी कह चुका हूं।” उन्होंने आगे सुप्रीम कोर्ट द्वारा सहमति के सुझाव पर कहा कि, “हमने भी सरकार में रहते हुए कड़े फैसले लिए थे। तब 16 जानें गईं थीं और 84 लोग घायल हुए थे। हमने सहमति बनाने का चार बार प्रयास कि या था मगर बात नहीं बनी। सुप्रीम कोर्ट को इस मामले में हस्तक्षेप करना होगा। कोर्ट का फैसला ही सर्वमान्य होगा|”