loading...

akhand

भारत में मां दुर्गा के अनेक मंदिर हैं परंतु अगर किसी मुस्लिम देश में मंदिर मौजूद हो तो यह किसी आश्चर्य से कम नहीं है। अजरबैजान में सुराखानी नामक स्थान पर भगवती का एक प्राचीन मंदिर स्थित है। इस देश की करीब 95 फीसदी आबादी मुस्लिम है।

कई सदियां बीत गईं, लेकिन यह मंदिर शान से खड़ा है। हालांकि अब यहां न तो श्रद्धालुओं की भीड़ दिखाई देती है और न ही फिजाओं में जयकारे गूंजते हैं।इस मंदिर को आतिशगाह अथवा टेंपल ऑफ फायर नाम से भी जाना जाता है। यह नाम इसे एक विशेषता के कारण मिला है। यहां कई वर्षों से एक पवित्र अग्नि निरंतर जल रही है। यह मंदिर मुख्यत: अग्नि को ही समर्पित है।

चूंकि हिंदू धर्म में अग्नि को बहुत पवित्र माना जाता है। इसलिए यहां जल रही ज्योति को साक्षात भगवती का रूप माना गया है। उल्लेखनीय है कि ऐसी ही ज्योति मां ज्वालाजी के मंदिर में भी जल रही है।

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें