loading...

nasrin

loading...

तस्लीमा नसरीन, बांग्लादेश की  मशहूर लेखिका ने एक बार फिर कुरान पर निशाना साधा है, और एक ऐसी बात कही है, जो की कई मुसलमानों को नागुज़ारा होगी।

उन्होंने Twitter  पर कहा है, कि हाल ही में उन्होंने जाकिर नाइक के भाषण सुने और उनका कहना है, कि जाकिर जो भी अपने भाषणों में कहता है, वो काफी खतरनाक है। क्यूंकि वह  21व़ी सदी में 7व़ी सदी की कहानी सुना रहे है। तस्लीमा के हिसाब से 7व़ी सदी में लिखे गए आदेशों की आज के समय में कोई मान्यता नहीं है। हाँ वो बात अलग है की अब तक दुनिया भर में करोड़ों मुसलामानों में लाखों ने भी कभी ऐसी बातों का विरोध नहीं किया! यही कारण है की आज भी मुस्लिम समाज, आतंकवाद को लेकर denial में है कि बुराई असल में उनकी धार्मिक पुस्तक में है!

ये कहा तसलीमा ने:

तस्लीमा

अब आगे यह देखना बाकि है, की उनके इस ब्यान पर अब फत्वाह ज़ारी होता है, या फिर उन्हें जान से मारने की धमकी मिलती है। पर उन्हें तो अब तक ऐसी प्रतिक्रियाओं की आदत पढ़ गयी होगी।

Video Sponsor : Nationalist Viral Poems

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...