loading...

javdekar

loading...

नई दिल्ली – केंद्रीय शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर आजकल अपने सामान्य ज्ञान के लिए सुर्ख़ियों में छाए हुए हैं। उनके सामान्य ज्ञान की चर्चा जोरों पर है। आखिर ऐसे ही नहीं उन्हें देश के शिक्षा मंत्री का पद दिया गया है। वह मोदी सरकार के अहम् मंत्री है और समय समय पर अपनी सार्थकता को लगातार साबित भी कर रहे हैं। इसका ताज़ा उदाहरण उन्होंने एक कार्यक्रम में पेश किया है।
दरअसल, वह श्रीकृष्ण भगवान के जन्म पर्व जन्माष्टमी से जुड़े एक कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने वहां मौजूद ‘भक्तों’ का ज्ञानवर्धन किया और बताया कि कैसे दुर्योधन के मामा रावण को भगवान श्रीकृष्ण ने इस संसार से उस संसार में पहुँचा दिया।

 
जावड़ेकर ने कहा कि महाबली रावण की शक्तियों को देखते हुए भगवान श्रीकृष्ण के लिए उसे मारना आसान नहीं था। लेकिन, रावण को मारने के लिए उसी के भाई दुःशासन ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। श्रीकृष्ण ने रावण को कैसे मारा यह बताया शिक्षा मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने उन्होंने कहा कि रावण के दैत्य भाई दुःशासन का अचानक से हृदय परिवर्तन हो गया था और उसने ऐन मौके पर पाला बदल लिया।

 
आपको बता दें कि इतनी ज्ञानभरी बातों ने वहां बैठे कृष्ण भक्तों का मोह हर लिया था। वह प्रकाश जावड़ेकर का हौंसला कृष्ण भगवान की जय जयकार लगाकर करने लगे। लोग उनके ज्ञानोंतेज को देखकर चकित हो मंत्रमुग्ध हो गए थे।

 

यह पहला वाकया नहीं है जब महामानव जावड़ेकर ने अपने ज्ञान का जलवा दिखाया है। इससे पहले भी उन्होंने एक ज्ञानवर्धक बात बताई थी। उन्होंने लोगों को बताया था कि कैसे सरदार पटेल, पंडित जवाहर लाल नेहरू और सुभाष चंद्र बोस आज़ादी की लड़ाई लड़ते शहीद हो गए।

 
उनके इस बहुमूल्य ज्ञान को चारो ओर से प्रशंसा मिल रही है। लोग उन्हें बहुमुखी प्रतिभा का धनी बता रहे हैं। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कोटि कोटि धन्यवाद करते हुए शुक्रिया कर रहे हैं कि उन्होंने स्मृति ईरानी की ही तरह देश को एक बार फिर से इतना क़ाबिल शिक्षा मंत्री दिया।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें