loading...

Rajiv ji Ramkrishan

न्याय – पहला कारण ईमानदारी, राजीव भाई ईमानदारी से देश को जगा रहे थे, जो रामदेव को पसंद नहीं था उसे देशभक्ति के नाम पर धंधा करना था, राजीव भाई उसके बेईमानी के धंधे में बाधा बन रहे थे वह खुले आम योग के नाम पर किये जा रहे व्यापार का विरोध कर रहे थे।

राजीव भाई कालाधन भ्रष्टाचार और सम्पूर्ण व्यवस्था परिवर्तनराइट टू रिकोल (भगत सिंह भी चाहते थे) के नाम पर भारत स्वाभिमान दल को 2014 के आम चुनाव में उतारना चाहते थे, यदि ऐसा होता तो कांग्रेस+भाजपा का नामोनिशान मिट जाता। वास्तविक ईमानदार सरकार बन भी जाती तो रामदेव जैसे कई ठगों को जेल में ठूंस देती। इसीलिए उन्होने भाजपा के मुख्यमंत्री से मिलकर एक समझौता किया और राजीव भाई को छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमनसिंह से साथ मिलकर 30 नवम्बर 2010 की काली रात को भिलाई की अपोलो अस्तपाल के डॉक्टरों को मालपानी देकर अपने रास्ते से हमेशा-हमेशा के लिए खत्म करवा दिया।

अपोलो अस्तपाल के डॉक्टरों ने जो-जो दावई इंजेक्शन आदि लगाये थे उसकी लिस्ट आज गायब है न अस्पताल देती है न पतंजलि देती है।

1 of 3
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें