loading...

khun

loading...

चकुंदर (उसको बीट भी कहें ते है )के टुकड़े करके चाशनी में डालकर पका लें l जैसे आंवला केंडी बनती है, वैसे ही ये चकुंदर केंडी बन गयी । थोडा रोज खाये …खूब खून बनेगा…. भोजन के बाद या कैसे भी खाये इसके अलावा गन्ना खाएं तथा टमाटर का जूस व किशमिश भिगा के उसका जूस पियें । और भोजन के बाद किशमिश, टमाटर या गाजर ( उसमे से पीला भाग नीकाल दें ) उसका जूस पियें तो भी खून बनेगा ।

बीट एक फायदे अनेक

बीट जो एक कंदमूल है उसे लोग सलाद के रूप में भी लेते है।यह हमारे लिए बहुत ही उपयोगी कंदमूल है।इसे नियमित रूप से खाने से खून साफ रहता है तथा शरीर में खून की कमी भी नही होती है। इसका उपयोग कई तरह से किया जाता है। टमाटर के सूप का स्वाद और रंग बढ़ाने के लिए उपयोग किया जाता है।

बीट का नियमित रूप से यदि प्रतिदिन सेवन किया जाए तो कमजोरीभी दूर हो जाती है। जिन लोगों में खून की कमी हो जाती है या पाई जाती है उन लोगों को भी बीत खाने की सलाह डॉक्टर द्वारा दी जाती है। मोच आने पर बीट के पत्ते को रगड़ के लगाया जाए तो दर्द में राहत मिलता है।इस तरह बीट कई बिमेरियों से राहत पाने के लिए भी बहुत ही उपयोगी है।कब्जियत में बीट लाभकारी साबित होता है।

(१)पथरी से राहत के लिए चुकंदर :

चुकंदर को पानी में उबाल कर इसका सूप पीने से पथरी में लाभ होता है .मात्र तीस मिली -लीटर (६ चाय के चम्मच के बराबर ) सूप दिन में चार बार लें ।

इससे गुर्दे की सूजन भी दूर होती है .ये पेशाब ज्यादा लाता है .मूत्रल है.डाय-युरेतिक्स का काम करता है .गुर्दे के रोगों में भी लाभदायक है ।

(२)सांस नाली को साफ़ रखता है :चुकंदर बलगम को निकालकर श्वसन मार्ग ,सांस -नली को साफ़ करता है ।

(३)बाल गिरना कम करता है :चुकंदर के ताज़े पत्ते मेहँदी के साथ पीसकर सिर पर लेप करने से बालों का गिरना बंद हो जाता है .बाल तेज़ी से उगतें ,बढतें हैं ।

(४)गंजपन का समाधान :चुकंदर के पत्तों को पीसकर इसमें थोड़ी सी हल्दी मिलाकर लेप करने से बाल उग आतें हैं ।

(५ )एग्जिमा में लाभ :चुकंदर के पत्तों के रस में शहद मिलाकर लगाने से दाद (एग्जिमा )ठीक हो जाता है ।

(६)गोरा बनाने का देशी सौदा :

एक कप चुकंदर के रस में एक कप पके लाल टमाटर का रस तथा दो चमच कच्ची हल्दी का रस (या एक चम्मच हल्दी पाउडर )मिलाकर सुबह शाम १५ दिन सेवन करने से त्वचा का रंग गोरा होता है ।

(७)उच्च रक्त चाप (हाई -पर -टेंशन /हाई -ब्लड प्रेशर )में राहत के लिए :

एक कप चुकंदर एक कप लाल टमाटर तथा आधा कप पपीता का रस और आधा कप किन्नू (नारंगी )का रस मिलाकर नित्य दो मर्तबा पीने से उच्च रक्त चाप में आराम आता है ।

बत्लादें आपको चुकंदर खून की नालियों ब्लड वेसिल्स को चौड़ा करता है ,नाइट्रेट्स से भरपूर है .

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें