loading...
  • रूप और रंग निखारने में केसर का होता रहा है सदियों से प्रयोग।kesar-k-fayde
    loading...
  • अपच को भी दूर कर हाजमा ठीक में मदद करता है केसर।
  • मसूड़ों की समस्‍याओं को ठीक करने में मददगार है केसर।
  • केसर आंखों की रोशनी तेज करने में भी मदद करता है।केसर स्वास्‍थ्‍य के‍ लिए बहुत फायदेमंद होता है। केसर की खुशबू बहुत तेज होती है। केसर को विभिन्न प्रकार के व्यंजनों में डालकर खाया जाता है।

    भारत में केसर (जाफरान) कश्मीर में पैदा होता है। गर्म पानी में डालने पर केसर से गहरा पीला रंग बनाया जाता है। पेट संबंधित परेशानियों के इलाज के लिए केसर बहुत फायदेमंद है। चोट लगने या झुलसने पर भी केसर का लेप लगाने से फायदा होता है। आइए हम आपको केसर के गुणों की जानकारी देते हैं।

    केसर के गुण

    • चन्दन को केसर के साथ घिसकर इसका लेप माथे पर लगाने से सिर, आंखों और दिमाग को शीतलता मिलती है। इस लेप को लगाने से दिमाग तेज होता है।
    • सिर दर्द को दूर करने के लिए केसर का उपयोग किया जा सकता है। सिर दर्द होने पर चंदन और केसर को मिलाकर सिर पर इसका लेप लगाने से सिर दर्द में राहत मिलती है।
    • नाक से खून बहने की समस्या के उपचार के लिए भी केसर बहुत फायदेमंद है। नकसीर होने पर चंदन के साथ केसर को मिलाकर लेप लगाइए, नाक से खून बहना बंद हो जाएगा।
    • बच्चें को अगर सर्दी और जुकाम की समस्या हो तो केसर का दूध सुबह-शाम पिलाने से बच्चे की सर्दी और जुकाम में राहत मिलेगी।
    • गैस और एसिटिडी से राहत दिलाने में काफी मदद करता है। यह हमारी पाचन क्रिया को भी दुरुस्‍त रखता है।
    • बच्चें की सर्दी अगर समाप्त न हो रही हो तो बच्चे की नाक, माथे, छाती और पीठ पर केसर, जायफल और लौंग का लेप लगाने से फायदा होता है।
    • अतिसार में भी केसर बहुत फायदेमंद है। अतिसार होने पर केसर को जायफल, आम की गुठली, सोंठ को पत्थर पर पानी के साथ घिसकर इसका लेप लगाने से फायदा होता है।
    • महिलाओं के लिए केसर बहुत फायदेमंद होता है। महिलाओं की कई शिकायतें जैसे – मासिक चक्र में अनियमिता, गर्भाशय की सूजन, मासिक चक्र के समय दर्द होने जैसी समस्याओं में केसर का सेवन करने से आराम मिलता है।
    • हिस्टीरिया जैसी बीमारियों को नियंत्रित करने में केसर का सेवन फायदेमंद होता है।
    • त्वचा के झुलसने या चोट लगने पर केसर के लेप लगाना चाहिए। इससे तुरंत फायदा होता है और नई त्वचा का निर्माण जल्द होता है।
    • केसर को दूध के साथ पीने से शारीरिक शक्ति बढती है।
    • किडनी और लिवर के लिए भी केसर काफी फायदेमंद होता है। यह ब्‍लैडर और लिवर की समस्‍याओं को ठीक करने में मदद करता है। और रक्‍त शुद्धिकरण करता है।
    • अर्थराइटिस के मरीजों के लिए भी केसर बहुत लाभकारी होता है। यह जोड़ों के दर्द से भी राहत दिलाता है। यह थकान को दूर करने और मांसपेशियों को राहत पहुंचाने का काम करता है।
    • अनिद्रा की शिकायत को दूर करने में भी केसर काफी उपयोगी होता है। इसके साथ ही यह अवसाद को भी दूर करने में मदद करता है। रात को सोने से पहले दूध में केसर डालकर पीने से अनिद्रा की शिकायत दूर होती है।
    • केसर में ‘क्रोसिन’ नाम का तत्‍व पाया जाता है, जो वैज्ञानिक रूप से बुखार को दूर करने में उपयोगी माना जाता है। इसके साथ ही यह एकाग्रता, स्‍मरण शक्ति और रिकॉल क्षमता को भी बढ़ाने का काम करता है।
    • आंखों की परेशानी को दूर करने में भी मददगार होता है केसर। एक हालिया शोध में यह बात सामने आयी है‍ कि जिस प्रतिभागी ने केसर का सेवन किया उसकी नजरें बेहतर रहीं। यह मोतिया को दूर करने में भी मदद करता है।
    • केसर मसूड़ों की परेशानी को भी दूर करता है। यह मसूड़ों में सूजन और जख्‍मों को दूर करता है। इसके साथ ही यह मुख और जीभ की तकलीफों से निजात दिलाता है।

    कैसे करें केसर का इस्‍तेमाल

    केसर खाद्य पदार्थों की सुगंध और स्‍वाद में इजाफा करता है। केसर को खीर, बिरयानी, मिठाई और दूध आदि में इस्‍तेमाल किया जा सकता है। दूध में केसर मिलाकर पीने से त्‍वचा का सांवलापन दूर होता है।

    कैसे चुनें असली केसर

    केसर बहुत महंगा होता है। कई नकली उत्‍पादों पर केसरिया रंग चढ़ाकर उसे केसर के नाम पर बेचा जाता है। असली और नकली केसर की पहचान करने के लिए आप गर्म पानी अथवा दूध में थोड़ा सा केसर डालिये अगर वह फौरन रंग छोड़ दे, तो समझ झाइये कि वह नकली है। असली केसर कम से कम दस से पंद्रह मिनट बाद गहरा लाल रंग छोड़ता है और साथ ही महकने लगता है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें