loading...

नई दिल्‍ली। अपनी 4जी सर्विस शुरू करने से पहले और अधिक स्‍पेक्‍ट्रम के लिए मुकेश अंबानी के नेतृत्‍व वाली रिलायंस जियो इंफोकॉम लिमिटेड (आरजियो) ने सोमवार को अनिल अंबानी के नेतृत्‍व वाले रिलायंस कम्‍यूनिकेशन लिमिटेड (आरकॉम) के साथ 9 सर्किल में आरकॉम को आवंटित 800 मेगाहर्ट्ज बैंड आरजियो को देने और 17 सर्किल में 800 मेगाहर्ट्ज बैंड साझा करने के लिए रणनीतिक समझौता किया है। रिलायंस जियो द्वारा 4जी सर्विस को लॉन्‍च करने से पहले यह समझौता काफी महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है। इस समझौते की मदद से आरजियो तेज गति की 4जी सेवाओं को पूरे देश में एक साथ शुरू कर सकेगी।indiatvpa

loading...
विस्तारित रणनीति सहयोग के तहत दोनों कंपनियों का इरादा आपसी सहमति वाले अंतर सर्किल रोमिंग व्यवस्था का भी है। आरकॉम ने कहा कि 800 मेगाहर्ट्ज में स्पेक्ट्रम तक पहुंच बढ़ने से आरजेआईएल को एलटीई सेवाओं को पेश करने में मदद मिलेगी। दोनों ऑपरेटरों को उम्मीद है कि इससे उनकी परिचालन लागत में उल्लेखनीय बचत होगी और आरकॉम में भविष्य में निवेश से ग्राहकों को रिलायंस जियो के राष्ट्रीय स्तर के 4जी एलटीई नेटवर्क तक पहुंच का लाभ मिलेगा।

यह समझौता रिलायंस जियो और आरकॉम ग्रुप के बीच कारोबारी रिश्‍ते और मजबूत होंगे, इंटर और इंट्रा सिटी ऑप्‍टीकल फाइबर नेटवर्क तथा टेलीकॉम टॉवर इंफ्रास्‍ट्रक्‍चर को साझा करने के लिए भी दोनों कंपनियों के बीच राष्‍ट्रीय लांग टर्म आईआरयू समझौता हुआ है। रिलायंस जियो एक संपूर्ण डिजिटल इकोसिस्‍टम की स्‍थापना कर रहा है, जिसमें संपूर्ण देश में हाई स्‍पीड डाटा नेटवर्क और विविध एप्‍लीकेशन और सर्विसेस जैसे न्‍यूज, एंटरटेनमेंट, पेमेंट, बिजनेस, हेल्थकेयर और एजुकेशन का कंटेट शामिल है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें