loading...

colors-screen-awards_026

loading...

इरफ़ान खान एक ऐसे अभिनेता हैं, जिन्होंने अपने अभिनय से न देश में, बल्कि विदेश में भी नाम कमाया है। हाल ही में इरफ़ान इस्लाम पर और आतंक के खिलाफ़ अपने विचार व्यक्त करने पर चर्चा में आए। इरफ़ान के विचार जान के ये तो पता लग ही गया कि, वह काफी समझदार और सुलझे हुए विचारों के इन्सान है। शायद इरफ़ान किसी भी धर्म में कोई भेदभाव नहीं करते, उनके लिए तो आपसी प्रेम और भाईचारा ही जीने का ढंग है। ये हम सब जानते हैं लेकिन क्या आपको मालूम है कि इरफ़ान खान, प्यार में हिन्दू धर्म को अपनाने के लिए तैयार हो गए थे?

Read Also > देखिये कैसे अर्नब और इरफान ने कैसे! मौलवी और इस्लामिक जानकारों की छुट्टी कर दी

इरफ़ान की पत्नी सुतापा, असम की रहने वाली हिन्दू परिवार से है और उनसे शादी करने के लिए इरफ़ान हिन्दू बनने को तैयार थे, लेकिन सुतापा के परिवार ने उन्हें मुस्लिम के रूप में ही अपना लिया था।

Read Also > मोदी, राहुल गांधी और केजरीवाल से बोले इरफ़ान, सवाल पूछने हैं, मिल सकता हूँ ?

इरफ़ान ने बताया कि उनकी मुलाकात सुतापा से नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा में हुई थी। रिश्ते गहरे हुए, तो उन्होंने शादी करने का फैसला लिया। इरफ़ान ने तब सुतापा से कहा कि अगर उनके परिवार को उनके मुसलमान होने से कोई परेशानी है तो वह हिन्दू बनने को तैयार है। लेकिन सुतापा के घर वालों को इस बात से फर्क पड़ने से मन करा! इरफ़ान का कहना है कि आज वो जो कुछ भी है केवल सुतापा की वजह से है। सुतापा ने भी इरफ़ान के बारे में कहा था कि वो जितने सीरियस फिल्मों में लगते हैं, असल जिंदगी में वो बहुत मज़ाकिया हैं और अपने दोनों बेटों के लिए सर्वश्रेष्ठ पिता हैं।

Read Also > कुर्बानी वाले बयान पर कायम इरफान खान, कहा- धर्म के ठेकेदारों से नहीं डरता

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें