loading...

budget2

नई दिल्ली। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने आज संसद में रेल बजट पेश किया।प्रभु ने रेल किराए और मालभाड़े में कोई बढ़ोतरी नहीं करने का ऐलान करते हुए 4 नई ट्रेनों का ऐलान किया। प्रभु ने 2020 के लिए विजन पेश करते हुए कहा कि रेलवे दूसरे तरीकों से राजस्व जुटाएगी। क्या क्या कहा प्रभु ने पढ़ें-

# रेलवे किराये में कोई बढ़ोतरी नहीं होगी
# माल भाड़े में भी कोई इजाफा नहीं
# चार नई ट्रेनों का ऐलान- हमसफर, अंत्योदय, तेजस और उदय एक्सप्रेस
# देश का पहला रेल ऑटो हब चेन्नई में बनेगा
# जापान की मदद से मुंबई-अहमदाबाद कॉरिडोर पर काम
# रेलवे की जमीन को अतिक्रमण से मुक्त कराएंगे
# खर्च में कटौती कर कमाई बढ़ा सकते हैं
# 2020 तक रेलों को समय से चलाने का लक्ष्य
# रेलवे में जीरो दुर्घटना का लक्ष्य
# डिजिटल इंडिया मिशन के तहत इस साल ट्रैक मैनेजमेंट सिस्टम की शुरुआत की, जिसमें एसएमएस, ई-मेल के जरिए अलर्ट जारी हो रहे हैं
# दुर्घटनाएं कम करने के लिए दुनिया के प्रमुख रेल संस्थानों, टेक्निकल रिसर्च इंस्टीट्यूट्स के साथ रिसर्च और विकास साझेदारी शुरू की।
# मौजूदा वर्ष में 820 रोड ओवर ब्रिज/अंडर ब्रिज को पूरा किया और 1,350 पर काम चल रहा है।
# 2015-16 में 350 चौकीदार वाली लेवल क्रॉसिंग बंद की और 1,000 बिना चौकीदार वाले लेवल क्रॉसिंग बंद की।
# कैबिनेट ने पीपीपी मॉडल पर 400 रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास करने का अनुमोदन दिया।
# प्रत्येक सवारी डिब्बे में वरिष्ठ नागरिक कोटे को 50% बढ़ा रहे हैं।
# रेलवे स्टेशनों पर युवा और कारोबारी यात्रियों के लिए वाई-फाई सेवा शुरू की
# महिला सुरक्षा के लिए सवारी डिब्बों में मध्यम भाग को आरक्षित किया गया
# गूगल की साझेदारी से इस साल 100 स्टेशनों और अगले 2 साल में 400 स्टेशनों पर वाई-फाई सेवाओं का प्रस्ताव
# रेलवे स्टेशनों पर पोर्टरों को नई यूनिफॉर्म दी जाएगी।
# दिव्यांगों के लिए ऑनलाइन टिकट बुकिंग को सुविधाजनक बनाया
# दिव्यांगों के लिए व्हीलचेयर की ऑनलाइन बुकिंग और सभी सवारी डिब्बे ब्रेल इनेबल्ड किए
# वरिष्ठ नागरिकों और महिलाओं के लिए लोअर बर्थ का कोटा बढ़ाया
# इस वित्तीय वर्ष के अंत तक ट्रेनों में 17,000 जैव शौचालय उपलब्ध कराए जाएंगे
# दुनिया का पहला जैव निर्वात शौचालय भारतीय रेल ने तैयार किया और डिब्रूगढ़ राजधानी एक्सप्रेस में प्रयोग हो रहा है
# 1780 ऑटोमैटिक टिकट वेंडिंग मशीनें और 225 कैश-क्वाइन और स्मार्ट कार्ड चालित टिकट वेंडिंग मशीनें लगाई गईं
# सोशल मीडिया और आईवीआरएस प्रणाली के जरिए ग्राहकों से मिल रहा फीडबैक।
# आधुनिक साजसज्जा वाले सवारी डिब्बों के साथ नई रेलगाड़ी महामना एक्सप्रेस शुरू की है।
# यात्रियों से इनपुट लेने के लिए रोजाना 1 लाख से ज्यादा फोन किए जाते हैं ।
# रेलवे स्टेशनों पर 2,500 वाटर वेंडिंग मशीनें लगाई गईं।
# 17000 बायो टॉयलेट, 475 स्टेशनों पर अतिरिक्त शौचालय।
# 400 नए स्टेशनों पर वाई फाई की सुविधा।
# जनरल बोगी में भी मोबाइल चार्ज करने की सुविधा।
# वरिष्ठ नागरिकों के लिए हर ट्रेन में 120 सीटें।
# वरिष्ठ नागरिकों के लिए कोटा 50% बढ़ा
# 17000 नई ऑटोमैटिक टिकट वेंडिंग मशीनें
# रेल सुरक्षा के लिए आधुनिक तकनीक का प्रयोग जरूरी
# इस साल 44 नई परियोजनाएं शुरू होंगी
# प्रति मिनट 7200 ई-टिकट देने का लक्ष्य
# बड़े स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।
# राज्य सरकारों के साथ 6 समझौता ज्ञापनों पर हस्ताक्षर हुए
# संयुक्त उद्यम के लिए 17 राज्यों से सैद्धांतिक अनुमोदन मिला
# कैबिनेट ने रेलवे को राज्य सरकारों के साथ संयुक्त उद्यम की अनुमति दी
# कार्यप्रणाली में कुशलता के लिए आंतरिक लेखा प्रणाली का पुनर्गठन
# हमने ये सुनिश्चित किया है कि परियोजनाएं 6-8 माह के अंदर स्वीकृत हो जाएं, पहले इसमें 2 साल से ज्यादा का वक्त लगता था।
# सभी प्रकार की खरीद ई-प्लेटफॉर्म पर की जा रही है
# कामकाज में पारदर्शिता लाने के लिए सोशल मीडिया भी इस्तेमाल
# हमारा मिशन पूरे कामकाज में 100 प्रतिशत पारदर्शिता सुनिश्चित करना है
# त्रिपुरा की राजधानी अगरतला को बड़ी लाइन नेटवर्क पर लाया गया
# 7 किमी प्रतिदिन की रफ्तार से बड़ी लाइन चालू करने में सफल
# पिछले वर्ष की गई 139 घोषणाओं पर कार्रवाई आरंभ की गई
# भारतीय जीवन बीमा निगम ने अनुकूल शर्तों पर 1.5 लाख करोड़ रुपये के निवेश की सहमति दी
# 2500 किमी अतिरिक्त बड़ी लाइन चालू करने के लक्ष्य से भी आगे निकल जाएंगे, जो पिछले साल से करीब 30% ज्यादा होगा
# अगले वित्तीय वर्ष में 2,000 किमी का विद्युतीकरण करने का प्रस्ताव
# 2020 तक मालगाड़ियों को टाइम-टेबल के अनुसार चलाने का लक्ष्य
# 2020 तक बिना चौकीदार वाली क्रॉसिंग को खत्म करने का लक्ष्य
# 2020 तक 95 प्रतिशत तक समय पालन का लक्ष्य
# वित्तीय वर्ष 2016-17 में पूंजीगत योजना के लिए 1.21 लाख करोड़ रुपये रखे गए हैं
# हमारा निवेश पिछले वर्ष के औसत का लगभग दोगुना होगा
# आगामी वित्तीय वर्ष में शून्य आधारित बजट प्रक्रिया की अवधारणा अपनाएंगे
# अगले वर्ष तक 1,84,820 करोड़ रुपये का राजस्व जुटा सकेंगे
# 2020 तक ट्रेनों से मल-मूत्र के सीधे डिस्चार्ज को समाप्त करने का लक्ष्य
# 2020 तक स्वर्णिम चतुर्भुज पर सेमी हाईस्पीड ट्रेनें चलाने का लक्ष्य
# 2020 तक मालगाड़ियों की औसत गति 50 किमी/घंटे और मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों की औसत गति 80 किमी/घंटे तक करने का लक्ष्य
# ये मेरा बजट नहीं बल्कि आम लोगों का बजट है।
# मैं रेल को भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनाना चाहता हूं।
# ये बजट देश की नई यात्रा और बदलाव का होगा।
# हम नए स्रोतों के जरिए राजस्व जुटाएंगे, हम अपनी क्षमता बढ़ाएंगे
#नागरिकों को ऐसी रेल सेवा मुहैया कराना है, जिस पर वे गर्व कर सकें
# रेलवे में 1 रुपये के निवेश से पूरी अर्थव्यवस्था में 5 रुपये की वृद्धि हो

बजट पेश करने से पहले सुरेश प्रभु ने कहा कि रेल से लोगों की बहुत सी आशाएं हैं, हमारा बजट इन सभी बातों को ध्यान में रख कर बनाया गया है। सबको पसंद आएगा ऐसी आशा करता हूं।

कयास लगाए जा रहे हैं कि इस बार के बजट में रेलवे में आधारभूत ढांचे को मजबूत करने के लिए प्रावधान किए जाएंगे। यही नहीं जिस तरह से रेलवे के आधुनिकीकरण पर ध्यान दिया जा रहा है इस बार के बजट में उसकी भी झलक देखने को मिल सकती है। ये देखना होगा कि क्या इस बार के रेल बजट में नई गाड़ियों का प्रावधान किया जाएगा। साथ ही ये भी देखना दिलचस्प होगा कि यात्री किराए को लेकर सुरेश प्रभु इस बार के बजट में किस तरह का प्रावधान रखते हैं।

चुनौतियां बड़ी हैं लेकिन इनसे निपटने की कोशिशें भी होती रही हैं। शायद यही वजह है कि भारतीय रेल लगातार विकास के रथ पर दौड़ती दिखी है। अब देखना ये है कि इस बार के रेल बजट में रेल मंत्री सुरेश प्रभु इन चुनौतियों से निपटने के कितने कारगर तरीके सामने ला पाते हैं। साथ ही ये भी देखना होगा कि रेलवे को आर्थिक तंगी से उबारने के लिए बजट में किस तरह के प्रावधान किए जाएंगे।

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

शेयर करें