loading...

पाकिस्तान से आए गायक अदनान सामी को भारत की नागरिकता मिल गई है. दिलचस्‍प बात यह है कि 2001 में भाजपा अदनान के भारत आने का विरोध कर ही थी, अब उसी के सरकार में नागरिकता दी गई है. अदनान की नागरिकता एक जनवरी 2016 से लागू होगी. कुछ महीने पहले ही सरकार ने सिटिजनशिप को लेकर फैसला कर लिया था, लेकिन पाकिस्तान हाई कमीशन के अड़ंगा लगाने का बाद मंजूरी रुक गई थी.

एक साल की वैलिडिटी वाले टूरिस्ट वीजा पर 13 मार्च, 2001 को अदनान पहली बार भारत आए थे. समय-समय पर वीजा की वैलिडिटी बढ़ाई जाती रही. वे यहां 11 साल से ज्यादा गुजार चुके हैं.

अदनान के पिता ने भारतीय फौज पर चलाई थी गोलियां Adnan-sami

loading...
गायक अदनान सामी के पिता फ्लाइट लेफ्टिनेंट अरशद सामी खान पाकिस्‍तानी फौज में थे. उन्‍होंने 1965 की जंग में भारत के एक लड़ाकू विमान, 15 टैंकों और 12 वाहनों को नष्ट किया था. इस वीरता के लिए पाकिस्‍तान सरकार ने अदनान के पिता को सितारा-ए-जुर्रत से नवाजा था. अदनान सामी का जन्‍म 26 मई को लाहौर में हुआ था.

इसी बात को लेकर भाजपा अदनान सामी के भारत आने का विरोध करती रही है, लेकिन अब केंद्र सरकार ने नागरिकता दे दी है. भारत में अदनान सामी का पहला एलबम ‘कभी तो नजर मिलाओ’ रिलीज हुआ था. इसी एलबम का एक गाना ‘थोड़ी सी भी लिफ्ट करा दो…’ काफी हिट हुआ था.

हाल में सलमान खान की फिल्‍म बजरंगी भाई जान का एक सूफी गाना ‘भर दो झोली मेरी या मुहम्‍मद…’ भी काफी चर्चित रहा था.

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें