loading...

लखनऊ

उत्तर प्रदेश में गोवध के आरोपियों पर फिलहाल गैंगस्टर कानून के तहत कार्रवाई नहीं हो सकेगी। राज्य सरकार ने हाल में राज्य के सभी थानों को एक सर्कुलर जारी कर दिया है। गृह विभाग के सचिव मणि प्रसाद मिश्र ने बताया कि प्रदेश सरकार ने इसी साल 20 जनवरी को एक अध्यादेश पारित किया था, जिसमें गोवध समेत विभिन्न किस्म के 10 अपराधों को गैंगस्टर के तहत कार्रवाई के दायरे में लाने की बात कही गई थी। 150331104336_cow_india_2a_epa

loading...

 उन्होंने बताया कि संवैधानिक रूप से कोई अध्यादेश उसे लागू किए जाने के छह हफ्ते तक वैध रहता है, बशर्ते बीच में विधानमण्डल का कोई सत्र न हो। अगर सत्र चल रहा हो तो अगर अध्यादेश की जगह कानून नहीं बन पाता है तो वह अध्यादेश सत्र के पहले दिन की कार्यवाही से छह हफ्तों के अंदर अपने आप निष्प्रभावी हो जाता है। ऐसे में इस अध्यादेश की अवधि पिछले अप्रैल माह में ही खत्म हो चुकी थी।
पूरी खबर पढ़ने के लिए Next पर क्लिक करे… 
1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें