loading...
न्यूयॉर्क/दिल्ली.यूएस प्रेसिडेंशियल इलेक्शन में डोनाल्ड ट्रम्प जीत गए। लखनऊ के IIM से पढ़े 30 साल के अविनाश इरागावारापू उनकी इस जीत के स्ट्रैटजिस्ट माने जा रहे हैं। वो ट्रम्प की इलेक्शन टीम में स्टेट चीफ कैम्पेनर थे। साथ ही कोर टीम में आईटी स्ट्रैटजी और डाटा क्रंचिंग देख रहे थे। बतौर अविनाश, इस साल 21 सितंबर से पहले तक ट्रम्प हार रहे थे। हिलेरी का जीतना तय था। मेन इलेक्शन में सिर्फ 45 दिन बचे थे। 22 सितंबर को एक बड़ी मीटिंग हुई। इस मीटिंग ने ट्रम्प को जीत का जैकपॉट दे दिया। अभी अमेरिका में रह रहे आंध्र प्रदेश के अविनाश ने भास्कर के जर्नलिस्ट रोहिताश्व मिश्रा और न्यूयॉर्क में आरिफ जमाल से हुई एक्सक्लूसिव बातचीत में ट्रम्प की हार को जीत में बदलने की पूरी कहानी बताई। avinash-iragavarapu
loading...
हारते हुए ट्रम्प ने 45 दिनों में ऐसे जीती बाजी… 
– अविनाश ने बताया कि इस मीटिंग में रिपब्लिकन ट्रम्प सहित इलेक्शन टीम के सभी अहम लोग मौजूद थे। उस दिन बनी नई स्ट्रैटजी और फिर रोज 19 से 23 घंटे तक हुए काम ने 70 साल के ट्रम्प को अमेरिका के राष्ट्रपति की रेस में जितवा दिया।
– एक अन्य सदस्य शलभ की ओर से ट्रम्प को दिया गया ‘मोदी मंत्र’ यानी ‘अबकी बार ट्रम्प सरकार’ भी इसी स्ट्रैटजी का हिस्सा था। 12 हजार लोगों की टीम सुबह 5-6 बजे से रात 3-4 बजे तक काम करती थी।
– बता दें, अविनाश अमेरिकन स्टेट एरिजोना में ट्रम्प की पार्टी के चीफ कैम्पेनर और कोर टीम के स्ट्रैटजिस्ट हैं।
हिलेरी से नुकसान को प्रमोट करना थी नई स्ट्रैटजी
– अविनाश ने बताया, “नई स्ट्रैटजी में टीम का पूरा फोकस चेंज हो गया था।”
– “पहले हम ट्रम्प की क्वालिटी और उनके प्रेसिडेंट बनने से अमेरिका को होने वाले फायदे को सेल कर रहे थे। सितंबर में बनी नई स्ट्रैटजी में हिलेरी के प्रेसिडेंट बनने से होने वाले नुकसान और उनकी कमियों को वोटर्स के सामने रखने का प्लान बनाया गया।”
– “इस प्लान पर सुबह 6 बजे से रात 3 बजे तक 20 से 22 घंटे काम किया।”
पॉजिटिव माहौल बदल गया नेगेटिव में
– अविनाश ने dainikbhaskar.com को बताया, “नई स्ट्रैटजी में वोटर्स के जेंडर, एजुकेशन, इनकम ग्रुप और नागरिकता के आधार पर एंटी हिलेरी मैसेज फ्लोट किया जाने लगा।”
– “जैसे महिलाओं को मैसेज भेजा गया तो उसमें हिलेरी की ओर से एंटी वुमन स्टेटमेंट या एक्ट लिखा। हाई इनकम ग्रुप वालों को भेजने पर उससे जुड़ा एंटी स्टेटमेंट सेंड किया।”
– “लोग ट्रम्प को लेकर शुरुआती पॉजिटिव कैम्पेन से हिलेरी की तुलना करने लगे। इसके बाद हिलेरी को लेकर अमेरिका में नेगेटिव माहौल जनरेट हो सका।”
‘मोदी मंत्र’ से 3 दिन के अंदर फेवर में आ गए इंडियन्स अमेरिकन
– अविनाश के मुताबिक, “नई स्ट्रैटजी की प्लानिंग के दौरान ट्रम्प को उनकी पार्टी के हिंदू संघ प्रेसिडेंट शलभ से ‘मोदी मंत्र’ का आइडिया मिला।”
– “इसमें ‘अबकी बार मोदी सरकार’ की तर्ज पर हिंदी में ‘अबकी बार ट्रम्प सरकार’ का नारा ट्रम्प से हिंदी में बोलने को कहा गया।”
– “इस वीडियो के आने के 3 दिन के अंदर हिंदुओं और अमेरिकी भारतीयों में ट्रम्प को लेकर फेवर काफी बढ़ा।”
ये भी पढ़ें
1#न्यूयॉर्क से EXCLUSIVE: एक भारतीय ने रोज 23 घंटे तक काम कर ट्रम्प के लिए बनाई स्ट्रैटजी, ‘मोदी मंत्र’ से 45 दिन में बदला गेम
2# भास्कर 5 मिनट गाइडः ट्रम्प की इस जीत से दुनिया में क्या होगा? भारत के सामने इंटनेशनल लेवल पर रोल निभाने का होगा मौका
3# ट्रम्प की कहानीः 1980 में सड़क पर आ गए थे ट्रम्प, फिर संभले, 5 साल में बने बिलेनियर
4# 227 साल बाद भी अमेरिका को नहीं मिली महिला राष्ट्रपति
5# What Next: ट्रम्प को अभी एक स्टेप और पार करनी होगी, तभी बनेंगे प्रेसिडेंट
6# मोदी से ट्रम्प की ट्यूनिंग पर देश की निगाहें, दोनों नेताओं के बीच 8 बातें हैं कॉमन
7# ट्रम्प की कहानी: पिता से कर्ज लेकर बिजनेस किया, फिर 3 शादियां कीं, हमेशा विवादों में रहे
8# ट्रम्प का इंडिया कनेक्शन: मुंबई-पुणे में बनाए लग्जरी फ्लैट, रणबीर कपूर ने भी खरीदा
9# ANALYSIS: US को फिर दबंग बनाने के वादे से डोनाल्ड ट्रम्प को मिला फायदा
10# ट्रम्प की जीत पर रूसी संसद में बजी तालियां; वर्ल्ड मीडिया ने कहा- वे अनफिट हैं
11# कई हॉलीवुड स्टार्स ने की US छोड़ने की बात, ट्रम्प की जीत के बाद एक तबका शॉक में
12# प्रेसिडेंट बनने पर पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रुख अपना सकते हैं ट्रम्पः US मीडिया
13# US इलेक्शन में 6 में से 3 भारतीय जीते, प्रमिला जयपाल ने बनाया रिकॉर्ड
14# न्यूड PHOTOSHOOT करा चुकीं ट्रम्प से 24 साल छोटी मेलेनिया होंगी US की फर्स्ट लेडी
इस यंग इंडियन का अगला टारगेट मोदी के लिए इलेक्शन स्ट्रैटजी बनाना, कर ली है प्लानिंग…
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें