loading...

नई दिल्ली। अक्सर सुर्खियों में रहने वाले दिल्ली के पुलिस कमिश्नर बी एस बस्सी ने रेप को लेकर एक चौंकाने वाला बयान दिया है। बस्सी के मुताबिक, रेप के आरोपियों को सीधे गोली मार देनी चाहिए या फिर फांसी पर लटका देना चाहिए। बस्सी ने इस बयान के बाद अब बखेड़ा शुरू हो गया है।Bassi_4116

loading...
हर साल की तरह इस बार भी दिल्ली पुलिस की सलाना प्रेस कांफ्रेंस हुई। दिल्ली पुलिस की उपलब्धियों और उसके भविष्य का टारगेट क्या है इसे बताने के लिए खुद दिल्ली पुलिस कमिश्नर बी एस बस्सी पत्रकारों से मुखातिब हुए। आने के साथ ही बस्सी साहब ने पहले तो अपनी पुलिस की शान में जमकर कसीद पढ़े।

जब पत्रकारों ने महिलाओं के साथ बढ़ती रेप की घटनाओं पर सवाल पूछा तो बस्सी साहब जोशीले अंदाज में आ गए। कमिश्नर बस्सी ने कहा कि अगर भारत का संविधान इजाजत दे तो दिल्ली में महिलाओं के खिलाफ अपराध करने वालों को गोली मार दूं या फिर उन्हें फांसी पर लटकाने में खुशी होगी।

दिल्ली पुलिस के आंकड़ों पर भरोसा करे तो दिल्ली के लोगों को शर्म आ जाएगी। आंकड़ों के मुताबिक दिल्ली में रेप की वारदात घरों के अंदर होती है। 86.73 में बलात्कार की जगह घर या झुग्गी होती है। वही महिलाओं के साथ सबसे ज़्यादा छेड़छाड़ की वारदात भी घर में हुई है। 39.88 प्रतिशत वारदात घर में होती हैं। जबकि करीब इतनी ही 39.25 प्रतिशत छेड़छाड़ की वारदात सड़कों पर होती है। यानि महिला न तो घर में और न ही सड़कों पर महफूज हैं। साल 2015 में 2095 रेप केस दर्ज हुए हैं जबकि 2014 ये तादाद 2085 थी। 2095 में से 2024 रेप के मामलों में आरोपी पीड़ित का जानकर या परिवार का सदस्य था। सिर्फ 71 मामलों में रेप की वारदात अनजान लोगों ने अंजाम दी थी।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें