loading...

nepaal

loading...

काठमांडू।  नेपाल की राजनीतिक पार्टियों ने नए संविधान से  धर्मनिरपेक्ष जैसे विनाशक शब्द को हटाने पर सहमति बना ली है। नेपाल के कट्टर यूनीफाइड कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ नेपाल-माओवादी (यूसीपीएन-एम) के दशकों लंबे चले हिंसक संघर्ष के बाद राजनीति की मुख्य धारा से जुड़ जाने से 2007 में देश को धर्मनिरपेक्ष राष्ट्र घोषित किया गया था। इस फैसले ने नेपाल के सदियों पुराने हिंदू साम्राज्य होने की पहचान को खत्म कर दिया था। नेपाल में 80% जनसंख्या सनातनी है।

Read Also > नेपाल में मधेसियों और पुलिस के बीच फिर संघर्ष, 100 घायल

राजनीतिक पार्टियों ने नए संविधान पर लाखों लोगों की प्रतिक्रिया पर यू-टर्न लेते हुए धर्मनिरपेक्ष जैसे भयंकर विनाशक शब्द हाटने का फैसला किया। संविधान सभा के मुताबिक, अधिकांश लोग धर्मनिरपेक्ष की जगह हिंदू तथा धार्मिक आजादी शब्द संविधान में शामिल कराना चाहते हैं। नेपाल में जल्द नए संविधान की घोषणा की जाएगी।

Read Also > नेपाल ने भारतीय दूतावास में गाड़ी जलाई, भारतीय प्रधानमंत्री को चेताया

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें