loading...
google.com
loading...
google.com

बिहार जहाँ की आबोहवा से महात्मा बुद्ध के ज्ञान की खुशबू आती है, बिहार जहाँ की पावन माटी ने हिन्दू रत्न गुरुगोबिंद सिंह जैसे वीरों को जन्म दिया है। दुनिया के सबसे महान शासक अशोक जैसे अशोक को जन्म दिया है। आचार्या चाणक्य जैसा महान नीतिवान और महात्मा महावीर जैसे दार्शनिकों की कर्मस्थली रहा है बिहार। बिहार के महान बेटों ने भारतवर्ष की शरहदों से बाहर जाकर सनातन धर्म की, और लोकतंत्र की स्थापना की है….. आज अवेर प्रेस पेश करता है “भारतवर्ष के गौरवशाली बिहार का स्वर्णिम इतिहास”

valmiki

1. पुराणों के अनुसार, वर्तमान बिहार के कुछ प्रमुख ज़िले जैसे मुजफ्फरनगर, सीतामढ़ी, समस्तीपुर, मधुबनी और दरभंगा कभी भगवान राम के ससुर राजा जनक के राज्य के अंतर्गत आते थे। सीता जी का जन्म स्थान पुनौरा भी सीतामर्ही के पास ही पड़ता है। राजा जनक की राजधानी “जनकपुरी” (जहाँ भगवान् श्री राम और माता सीता का विवाह हुआ था) बिहार सीमा से लगे हुए नेपाल देश में स्थित है ! रामायण के रचयिता “महर्षि वाल्मीकी जी” बिहार के वाल्मिकी नगर में रहते थे। इस प्रकार बिहार पुरातन काल से ही सनातन धर्म का प्रमुख मुख्य केंद्र रहा है।

1 of 10
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...