loading...

सब्जी और मसाले का उपयोग सिर्फ चटपटा खाना बनाने
में नहीं बल्कि घरेलू उपचार में किया जा सकता है। आज
हम आपको बता रहे हैं कुछ ऐसे घरेलू उपायों के बारे में-

  • उच्च रक्तचाप में लहसुन और शहद को लेने से रक्तचाप
    सामान्य होता है।
    *भुने हुए जीरे को सूंघने से जुकाम में छींके आना बंद
    हो जाती हैं।
  • पानी में जीरा को डालकर उबाल लें। फिर इसे छान लें।
    इस छने पानी से स्नान करने पर खुजली मिटती है।
  • हिचकी आने पर अदरक का टुकड़ा चूसे।
  • राई के तेल में नमक मिलाकर मंजन करने से पायरिया से
    निजात मिलती है।
  • सूजन में राई का लेप लगाने से आराम मिलता है।
  • सर्दियों में बादाम को रात में भिगो दें। सुबह घिसकर
    दूध में डालकर पिएं। यह दिमाग और त्वचा के लिए फायदेमंद होता है।
  • अमरूद खाने से कब्ज में फायदा होता है।
  • प्याज के रस में नींबू का रस मिलाकर पीने से
    उल्टिया आना बंद हो जाती हैं।
  • अमरूद को काले नमक, जीरा और नींबू का रस मिलाकर
    खाएं। इससे मुंह का जायका सुधरता है।
  • भाग का नशा उतारने के लिए अमरूद खिलाना चाहिए।
  • रोज सुबह खाली पेट एक चम्मच आवले का पाउडर
    पानी में घोलकर पीने से कोलेस्ट्राल को नियंत्रित
    करने में मदद मिलती है।
  • खाना खाने के बाद रोजाना सौंफ खाने से सास
    तरोताजा रहती है।
  • गुड़ के साथ सौंफ खाने से मासिक धर्म नियंत्रित
    होता है।
  • रात में सोने से पहले सरसों के तेल को नाभि पर लगाएं।
    इससे होंठ नहीं फटेंगे।
  • खाने के साथ रोज दो केले खाने से भूख बढ़ती है।
  • प्याज के रस को मस्सों पर लगाने से वे जड़ से गिरने लगते हैं।
  • होंठो का कालापन दूर करने के लिए दूध को होंठो पर
    लगाए।
  • खासी में तुलसी के रस को अदरक व शहद के साथ चाटने
    पर आराम मिलता है।
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें