loading...

नई दिल्‍ली। योग गुरु बाबा रामदेव की कंपनी पतंजलि आयुर्वेद के उत्‍पादों की धूम अब विदेशी बाजारों में भी होगी। बाबा रामदेव ने शुक्रवार को लखनऊ में मेगा स्‍टोर का उद्घाटन करते हुए कहा कि अगले साल से पतंजलि उत्‍पादों का निर्यात प्रमुख विदेशी बाजारों के लिए शुरू किया जाएगा। इसके लिए तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। indiatvpaisa_patanjali

loading...
मेगा स्‍टोर का उद्घाटन करते हुए बाबा रामदेव ने पत्रकारों से कहा कि अगले साल से हमारा फोकस निर्यात पर होगा। उन्‍होंने कहा कि शुरुआत में निर्यात से हजार करोड़ रुपए के राजस्‍व प्राप्‍ती का लक्ष्‍य रखा गया है, जिसे बाद में और बढ़ाया जाएगा। उन्होंने दावा किया कि अगर पतंजलि के उत्पाद देश में पर्याप्‍त मात्रा में उपलब्ध रहें तो कोई भी विदेशी उत्पाद नहीं खरीदेगा। इस कड़ी में उन्होंने देश में सक्रिय एफएमसीजी कंपनियों को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि वे जहर बेच रही हैं। उन्हें आयुर्वेद की कोई जानकारी नहीं है।
पतंजलि के उत्पादों की गुणवत्ता को लेकर हाल ही में उठे सवालों को खारिज करते हुए बाबा रामदेव ने कहा कि मीडिया को ये समझना चाहिए कि विदेशी कंपनियां तथा हमारी सोच और विचारधारा का विरोध करने वाले तत्व इस तरह की साजिश कर सकते हैं। रामदेव के ड्रीम प्रोजेक्ट में आश्रम पद्धति वाले स्कूलों की श्रृंखला स्थापित करना भी है। उन्‍होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट में वैदिक शिक्षा एवं आधुनिक शिक्षा का समन्वय रहेगा। प्रथम कक्षा से संस्कृत और अंग्रेजी पढ़ाई जाएगी। इसका पाठ्यक्रम सीबीएसई के पाठयक्रम से ज्यादा अच्छा होगा। उत्‍तर प्रदेश में पॉलिथीन पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने के फैसले की बाबा रामदेव ने खूब प्रशंसा की और कहा कि
खूबसूरत उत्तर प्रदेश और देश के लिए ये अच्छी पहल है।

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें