loading...

nirmal-singh-With-Audi

loading...

पानीपत/यमुनानगर।अक्सर लोग खेती को घाटे का सौदा बताते हैं, लेकिन यमुनानगर के नकटपुर गांव में एक किसान ने इस धारणा के उलट खेती से ही अपनी तकदीर बदली है और अब किसान निर्मल सिंह 40 लाख रुपए की ऑडी में घूमते हैं। कॉन्ट्रैक्ट फॉर्मिंग की वजह से ही निर्मल सिंह के खेतों में उगने वाले बासमती की धूम ब्रिटेन में है। उपज बढ़ाने व खर्च कम करने के लिए अब वे अपने खेतों में विदेशी तकनीक का भी खूब इस्तेमाल कर रहे हैं।

खेती के लिए ठुकराया नौकरी का ऑफर – छोटी-सी उम्र में पिता का साया सिर से उठ जाने के कारण निर्मल सिंह ने हिम्मत नहीं हारी। परिवार का बोझ कंधों पर आते ही नौकरी की बजाए खेती को तरजीह दी। ट्रिपल एमए, एमएड, एम फिल व पीएचडी करने के बाद उन्हें यूनिवर्सिटी से नौकरी का ऑफर आया था। निर्मल सिंह स्वयं बताते हैं कि अगर सही ढंग से किया जाए तो खेती से बढ़िया कोई कारोबार नहीं है। वे ही किसान कर्ज की वजह से आत्महत्या करते हैं जो कर्ज का सही इस्तेमाल नहीं करते।

1 of 2
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें