loading...

narendra-modi-with

loading...

नई दिल्ली –  25 जुलाई 2016 को राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी अपने कार्यकाल का चौथा वर्ष पूरा कर रहे हैं। वैसे तो भारत में राष्ट्रपति का पद समारोही होता है। ताकत सरकार के प्रमुख के रूप में प्रधानमंत्री के हाथों होती है। लेकिन भारत में राष्ट्रपति औपचारिक रूप से प्रधानमंत्री को नियुक्त करता है और पद और गोपनीयता की शपथ दिलाता है। अब आप ये सोच रहे होंगे कि हम आपको ये सब क्यों बता रहे हैं तो आपको बता दें कि वर्तमान में देश के राष्ट्रपति प्रणब मुख़र्जी का अगले साल यानि 2017 में कार्यकाल खत्म हो रहा है और साथ ही नए राष्ट्रपति की कवायद शुरू हो गई है।

अभी तक बीजेपी द्वारा सोसियल मीडिया पर मजदूरी पर रखी “बीजेपी आईटी सेल” द्वारा अफवाह फैलाई जा रही थी की बीजेपी अगले राष्ट्रपति के तौर पर सुब्रमनियन स्वामी के नाम की घोषणा करेगी लेकिन अब आडवाणी पीएम मोदी सरकार की शान में कसीदे पढ़ते नज़र आ रहे हैं इसको देखते हुये लगता है जैसे अचानक से मोदी ने पासा ही पलट दिया हो?

1 of 4
CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें