loading...
कहीं महात्मा गांधी को भी न कहने लगें राष्ट्रविरोधी : शाह
loading...
बलिया: वह दिनदूर नहीं जब विपक्षी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी और लौह पुरूष सरदार वल्लभभाई पटेल को भी निशाने पर लेकर उन्हें ही राष्ट्रविरोधी कहने लगेंगे। यह बात भारतीय जनता पार्टी के नेता और राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के विचारक ने कही, दरअसल उन्होंने वीर विनायक दामोदर सावरकर के विरूद्ध टिप्पणी करने वालों को आड़े हाथों लिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि सलेमपुर से सांसद रविंद्र कुशवाह ने संवाददाताओं से चर्चा में कांग्रेस पर राष्ट्रविरोधी तत्वों का खुलेआम साथ देने का आरोप भी लगाया। यही नहीं
उनका कहना था कि अब तो कांग्रेस अफजल गुरू और याकूम मेमन को अपना आदर्श बता रही है। उन्होंने राष्ट्र की स्वाधीनता में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले सावरकर को लेकर कहा कि वे उनकी नज़र में राष्ट्रविरोधी हैं, उनका कहना था कि यदि सावरकर देशभक्त नहीं थे तो फिर पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने उन पर डाक टिकट क्यों जारी नहीं किया।
उल्लेखनीय है कि वीडी सावरकर पर टिप्पणी करते हुए कांग्रेस ने कहा था कि उन्होंने ब्रिटिश शासन में गुलामी को लेकर याचना की थी। इस तरह की टिप्पणी पर भाजपा नेताओं ने आपत्ती ली, आरएसएस ने भी इस तरह की बातों की कड़ी निंदा भी की। उत्तरप्रदेश के आने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा सांसद ने यह भी कहा कि फिलहाल इस राज्य में सीएम कैंडिडेट का चुनाव नहीं हो पाया है लेकिन उन्होंने माना कि मोदी लहर का यहां अच्छा असर होगा

 

CLICK ON NEXT BUTTON FOR NEXT SLIDE

loading...
शेयर करें